Coronavirus : राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति ने राज्यपालों से की बात, कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर दिए ये सुझाव

Coronavirus ।। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति वैंकया नायडू ने 15 राज्यों के राज्यपालों, उपराज्यपालों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोरोना वायरस की स्थितियों की जानकारी ली।

By: anant

Updated: 27 Mar 2020, 06:26 PM IST

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति वैंकया नायडू ने शुक्रवार को 15 राज्यों के राज्यपालों, उपराज्यपालों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोरोना वायरस की स्थितियों की जानकारी ली। इस दौरान राज्यपाल कलराज मिश्र ने इस वैश्विक बीमारी से राज्य को बचाने के लिए किए जा रहे उपायों, नवाचारों के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

राष्ट्रपति कोविंद ने राज्यपालों से कहा कि वे राज्य सरकारों को अच्छे मशविरें दें। राज्य में इसकी नियमित समीक्षा करें। राष्ट्रपति ने कहा कि हमारा देश विकासशील है। हमें देश को बचाने के लिए प्रयास करने है। राज्यपाल की राज्य में महत्वपूर्ण भूमिका होती है। राज्यपालों को अपने राज्यों में इस वैश्विक महामारी से बचाव के प्रयासों में पहल करनी होगी। राज्यपालों को अपने-अपने राज्य के मुख्यमंत्री से लगातार संवाद करना चाहिए। राष्ट्रपति ने सुझाव दिया कि ऐसा प्रयास करें कि सप्ताह में एक समीक्षा बैठक आवश्यक रूप से हो सके। राज्यपाल ने बताया कि राजस्थान में प्रभावित क्षेत्रों में घर-घर सर्वे कराया गया है। रैपिड रेसपोंस टीम का गठन किया गया है।

-सोशल डिस्टेंसिंग का रखें ध्यान
उपराष्ट्रपति ने कहा कि सोशल डिस्टेसिंग के लिए लोगों को जागरूक करें। जागरूकता कार्यों में विश्वविद्यालयों का सहयोग लें। राज्य सरकारों को मोटिवेट करें। निजी अस्पतालों और धार्मिक संस्थाओं को आगे आने के लिए प्रेरित करें।

-सहायता के लिए बनाया फंड
राज्यपाल ने बताया कि इस बीमारी से लड़ने में आर्थिक सहयोग के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष में कोविड-19 कोष का निर्माण किया गया है, जिसमें राज्यपाल ने अपना एक माह का वेतन, राज्यपाल सहायता कोष से 20 लाख रुपए और राजभवन के अधिकारियों, कर्मचारियों का एक दिन का वेतन दिया गया है।

-सहयोग के लिए समन्वय जारी
निर्धन एवं वंचित वर्गों के रोजमर्रा की आवश्यकताओं की पूर्ति में राज्य स्तरीय रेडक्रॉस एवं जिला इकाइयां अपने सदस्य नेटवर्क के जरिए महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन कर सकते हैं। इस क्रम मे राज्य सरकार की ओर से कोविड-19 संबंधी रोकथाम, नियंत्रण, जांच, उपचार इत्यादि कार्यवाही के लिए रेडक्रॉस सोसायटी से समन्वय किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार के स्तर पर स्वयं सेवी संस्थाओं, अन्य सिविल संगठनों एवं निजी चिकित्सक संगठनों से कोविड-19 के नियंत्रण के संबंध में जरूरी सहयोग प्राप्त करने के लिए भी समन्वय किया जा रहा है।

-इतने बैड किए चिन्ह्रित
राज्यपाल ने बताया कि राज्य में सभी जिलों में क्वारेनटाईन सेंटर चिन्हित किए गए हैं। इन सेंटरों पर बैड संख्या एक लाख किया जाना प्रस्तावित है, जिसके लिए वर्तमान में 25,911 बैड चिन्हित कर लिए गए हैं।

coronavirus

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned