बोर्ड परीक्षा से विद्यार्थी को वंचित नहीं कर सकेंगे निजी स्कूल


बोर्ड परीक्षा के आवेदन पत्र भरवाने में कोताही करने वाले स्कूलों पर बोर्ड करेगा कड़ी कार्रवाई
राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने जारी किए हेल्प लाइन नंबर

By: Rakhi Hajela

Updated: 06 Nov 2020, 08:24 PM IST

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने प्रदेश के निजी स्कूलों में पढ़ रहे विद्यार्थियों और उनकेअभिभावकों को आश्वासन दिया है कि उन्हें बोर्ड परीक्षा में आवेदन करने के लिए पूरा अवसर दिया जाएगा। यदि कोई भी प्राइवेट स्कूल अपने स्कूल में पढ़ रहे विद्यार्थी के बोर्ड परीक्षा में आवेदन भरने में कोताही या आनाकानी करता है तो उसके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी। बोर्ड ने ऐसे विद्यार्थियों के लिए हेल्प लाइन नंबर भी जारी किया है। विद्यार्थी और अभिभावक बोर्ड के हेल्पलाइन नंबर 0145-2632866, 2632867 और 2632868 पर सूचित कर सकते हैं।
गौरतलब है कि बोर्ड की जानकारी में आया था कि प्रदेश के कुछ निजी स्कूल बोर्ड विद्यार्थियों को बोर्ड परीक्षा के आवेदन पत्र भरवाने में आनाकानी कर रहे हैं। जिसे देखते हुए बोर्ड ने इन स्कूलों पर कार्रवाई करने का निर्णय लिया है क्योंकि बोर्ड का मानना है कि प्राइवेट स्कूलों के आंदोलन का कारण कुछ भी हो लेकिन वह बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाले विद्यार्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं कर सकते। बोर्ड ने अभिभावकों और विद्यार्थियों से कहा है कि स्कूल प्रशासन, स्कूल प्राचार्य या स्कूल का कोई भी कर्मचारी किसी भी प्रकार का अनुचित दबाब डालता है तो वह बोर्ड की हेल्पलाइन पर सम्पर्क कर सकते हैं।
इनका कहना है,
बोर्ड परीक्षाओं से विद्यार्थी एवं उनके अभिभावकों के भावी जीवन के सपने जुड़े होते है। ऐसे में निजी विद्यालयों का नैतिक दायित्व है कि जो विद्यार्थी उनके विद्यालय में कई साल तक अध्ययन करके जब बोर्ड परीक्षा देने के लिए पात्र बना है तब ऐसे में बोर्ड परीक्षाओं के आवेदन में किसी भी प्रकार की बाधा नहीं डाले। यदि वह ऐसा करते हैं तो उनका यह कृत्य अमानवीय कार्य की श्रेणी में आता है।
डॉ. डीपी जारोली, अध्यक्ष
राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned