प्रदेश में समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद 15 मार्च से शुरू होगी


गेहूं की खरीद के लिए ऑनलाइन सिस्टम रहेगा उपलब्ध
ऑनलाइन सिस्टम के तहत प्रथम चरण के लिए 12 मार्च से किसानों का होगा पंजीयन

By: Rakhi Hajela

Published: 05 Mar 2021, 10:24 PM IST

प्रदेश में रबी विपणन वर्ष 2021-22 में समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद आगामी 15 मार्च से प्रारंभ की जाएगी। गेहूं की खरीद भारतीय खाद्य निगम नेफेड राजफैड एवं तिलम संघ एजेंसियों के माध्यम से की जाएगी। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के शासन सचिव नवीन जैन ने बताया कि प्रदेश में किसानों की सुविधा के लिए लगभग 350 खरीद केंद्रों की स्थापना की गई है। केंद्र सरकार से प्राप्त निर्देशों की पालना में इस बार होने वाली गेहूं की खरीद के लिए ऑनलाइन सिस्टम उपलब्ध रहेगा। ऑनलाइन सिस्टम के तहत की जाने वाली खरीद के प्रथम चरण के तहत 12 मार्च से किसानों का पंजीयन शुरू हो जाएगा।

एफसीआई के खरीद केंद्रों के लिए पंजीयन ई.मित्र के माध्यम से होगा
शासन सचिव ने बताया कि भारतीय खाद्य निगम के खरीद केंद्रों पर किए जाने वाली खरीद के लिए किसानों का पंजीयन ई.मित्र के माध्यम से होगा। किसानों को खरीद के लिए बैंक पासबुक की छायाप्रति चौक आधार कार्ड एवं गिरदावरी सहित सक्षम स्तर से जारी प्रमाण पत्र आवश्यक रूप से लाना होगा

अन्य खरीद एजेंसियों के लिए किसानों का पंजीयन खरीद केंद्रों से होगा
उन्होंने बताया कि राजफेड नेफेड एवं तिलम संघ खरीद एजेंसियों के लिए किसान अपना पंजीयन खरीद केंद्रों के माध्यम से करवा सकेंगे। किसानों के सत्यापन के लिए जन आधार कार्ड जरूरी होगा। किसानों को पंजीयन केंद्र पर बैंक पासबुक की छायाप्रति चेक एवं गिरदावरी सहित सक्षम स्तर से जारी प्रमाण पत्र देना होगा।

टोल फ्री नंबर 1800. 180 .6001 से किसान ले सकते हैं जानकारी
शासन सचिव ने बताया कि किसान किसी भी प्रकार की कोई जानकारी अगर लेना चाहते हैं तो टोल फ्री नंबर 1800 .180. 6001 पर जानकारी ले सकते हैं। उन्होंने बताया कि किसानों को पूर्व की भांति 48 घंटों के अंदर ऑनलाइन भुगतान करवाए जाने की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने बताया कि अगर किसी किसान के पास जन आधार कार्ड उपलब्ध नहीं है तो वह जन आधार कार्ड के लिए ई.मित्र के माध्यम से आवेदन कर सकेंगे।उन्होंने बताया कि अगर किसी किसान के जन आधार कार्ड में बैंक खाता संख्या का इंद्राज नहीं है तो इसके लिए नजदीकी ई.मित्र पर जाकर जन आधार कार्ड में अपने खाते का भी इंद्राज करवाएंगे।
एफएक्यू मापदंडों के अनुसार करवाना होगा परीक्षण
जैन ने बताया कि किसान पहले की तरह अनाज संबंधित नजदीकी खरीद केंद्र पर पहुंचेंगे जहां केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित एफएक्यू मापदंडों के अनुसार परीक्षण करवाएंगे। उन्होंने बताया कि परीक्षण में सफल होने के बाद किसान अनाज की सफाई तुलाई एवं पैकिंग की कार्यवाही करवाएंगे। खरीद केंद्र पर उपस्थित ऑपरेटर द्वारा सूचना को ऑनलाइन कर किसान को विक्रय पर्ची का प्रिंट उपलब्ध करवाएंगे।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned