रोडवेज के रिटायर्ड और सेवारत कर्मचारियों का धरना

रोडवेज के रिटायर्ड और सेवारत कर्मचारियों का धरना
रोडवेज के रिटायर्ड और सेवारत कर्मचारियों का धरना

Anant Kumar Das | Updated: 11 Oct 2019, 09:59:14 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

Rajasthan Roadways ।। प्रदेश का सबसे बड़ा बस परिवहन सिस्टम एक बार फिर सरकार के खिलाफ धरने-प्रदर्शन पर उतर आया है। जी हां, हम बात कर रहे हैं राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम और उसके कर्मचारियों की। प्रदेशभर के डिपो मुख्यालय और बस स्टैंड पर कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर डटे हैं। रोडवेज के संयुक्त मोर्चे के बैनर तले दिए जा रहे इस धरने के जरिए कर्मचारी सातवें वेतन आयोग सहित अन्य मांगों को लेकर सरकार का ध्यान आकर्षित करना चाहते हैं।

प्रदेश का सबसे बड़ा बस परिवहन सिस्टम एक बार फिर सरकार के खिलाफ धरने-प्रदर्शन पर उतर आया है। जी हां, हम बात कर रहे हैं राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम और उसके कर्मचारियों की। प्रदेशभर के डिपो मुख्यालय और बस स्टैंड पर कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर डटे हैं। रोडवेज के संयुक्त मोर्चे के बैनर तले दिए जा रहे इस धरने के जरिए कर्मचारी सातवें वेतन आयोग सहित अन्य मांगों को लेकर सरकार का ध्यान आकर्षित करना चाहते हैं। कर्मचारियों की मानें तो सरकार अब भी उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दे रही है। ऐसे में कर्मचारियों का कहना है कि मांगे नहीं मानी गई तो वो आंदोलन करेंगे।

इधर, कोटा में रोडवेज कर्मचारियों का धरना दूसरे दिन भी जारी रहा। न्यू बस टर्मिनल पर सुबह से शाम तक बड़ी संख्या में सेवारत और सेवानिवृत्त कर्मचारी धरने पर बैठे रहे। उन्होंने विभागीय प्रशासन और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बाद में कर्मचारियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने ज्ञापन देकर कर्मचारियों की मांगों को पूरी करने की सरकार से मांग की। कर्मचारियों का कहना है कि पिछली सरकार ने भी कर्मचारियों की ओर ध्यान नहीं दिया और प्रदेश की नई सरकार भी मांगों को नजरअंदाज कर रही है। कर्मचारियों ने पिछले वर्ष भी कई मांगों को लेकर प्रदर्शन किया था, तब कांग्रेस नेताओं ने विश्वास दिलाया था कि उनकी सरकार बनने पर कर्मचारियों की मांगों को पूरा किया जाएगा, लेकिन सरकार ने कर्मचारियों का विश्वास तोड़ा है।

-ये हैं मुख्य मांगे
सातवां वेतन आयोग लागू हो
सेवानिवृत कर्मियों के बकाया का जल्द भुगतान
रोडवेज के लिए नई बसों की खरीद
संविदाकर्मियों को जल्द नियमित किया जाए
कर्मचारियों को दिया जाए दिवाली बोनस

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned