Protest- रीट के लेवल वन से बीएडधारियों को बाहर करने की मांग

Protest-राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा रीट के लेवल वन से बीएडधारियों को बाहर करने की मांग करते हुए बीएसटीसी धारकों ने राजधानी जयपुर के शहीद स्मारक पर प्रदर्शन किया। इनका कहना है कि 26 अक्टूबर को कोर्ट में होने वाली सुनवाई में सरकार मजबूती से बीएसटीसी धारकों का पक्ष रखे।

By: Rakhi Hajela

Updated: 11 Oct 2021, 10:07 PM IST

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

बीएसटीसी धारकों ने दिया शहीद स्मारक पर प्रदर्शन
सरकार के प्रतिनिधि से नहीं हुई वार्ता
आंदोलन जारी रखने का ऐलान
जयपुर।
राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा रीट के लेवल वन से बीएडधारियों को बाहर करने की मांग करते हुए बीएसटीसी धारकों ने राजधानी जयपुर के शहीद स्मारक पर प्रदर्शन किया। इनका कहना है कि 26 अक्टूबर को कोर्ट में होने वाली सुनवाई में सरकार मजबूती से बीएसटीसी धारकों का पक्ष रखे। दिन भर चले धरने के बाद भी जब सरकार के किसी प्रतिनिधि से वार्ता नहीं होने पर बीएसटीसी धारकों ने आंदेालन जारी रखने का एलान किया। गौरतलब है कि बीएसटीसी धारकों को ही मौका देने की मांग पुरानी है। इसके लिए 2020 में बीएसटीसी धारकों ने बड़ा आंदोलन किया तो सरकार ने भी उनकी मांग पर सहमति जताई थी, लेकिन रीट.2021 में लेवल वन की परीक्षा में बीएडधारियों से भी आवेदन लिए गए और उन्हें परीक्षा में बैठाया गया। इस पर हाईकोर्ट में एक याचिका भी दायर की गई है। इस पर अगली सुनवाई 26 अक्टूबर को होनी है। बीएसटीसीधारी अभ्यर्थियों का कहना है कि 26 को होने वाली सुनवाई में सरकार मजबूती के साथ उनका पक्ष रखे ताकि लेवल वन से बीएडधारियों को बाहर किया जा सके। बीएसटीसी धारक अभ्यर्थी महेंद्र कुमार शर्मा का कहना है कि बीएडधारी अभ्यर्थियों के पास शिक्षक ग्रेड.3 के लेवल टू के साथ ही शिक्षक ग्रेड टू और स्कूल व्याख्याता में शामिल होने का मौका मिलता है। ऐसे में यदि लेवल.1 में बीएडधारियों को शामिल करना उनके हितों के साथ खिलवाड़ करने जैसा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned