पाकिस्तान सरकार ने छीना पीओके के लोगों से 'पानी', सड़कों पर उतरे लोग

Anand Mani Tripathi

Publish: Sep, 11 2018 12:03:49 PM (IST)

Jaipur, Rajasthan, India

पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) की जनता पाकिस्तानी सरकार के खिलाफ सड़कों पर है। प्राकृतिक संसाधनों के शोषण के खिलाफ पीओके के कई हिस्सों में बड़ी संख्या में लोगों ने प्रदर्शन किया। मुजफ्फाराबाद में प्रदर्शन कर रहे लोगों ने कहा कि पाकिस्तानी सरकार नीलम नदी का पानी पंजाब प्रांत की तरफ मोड़ रही है।गौरतलब है कि पाकिस्तान सरकार एक योजना के तहत मुजफ्फाराबाद के लोगों को उनकी लाइफलाइन कही जाने वाली नीलम नदी के पानी वंचित कर रही है। जिसकी वजह से मानसून के बावजूद भी नदी सूख रही है। इस्लामाबाद द्वारा इस अभियान के तहत कश्मीरी लोगों को उनके बुनियादी अधिकारी से दूर किए जाने के कारण मुजफ्फराबाद में विरोध-प्रदर्शन हुए।एक प्रदर्शनकारी ने कहा 'जल संसाधनों को खत्म करने से हमारे जीवन पर असर पड़ेगा क्योंकि नदियां सूख जाएंगी। लोगों को पानी की कमी का सामना करना पड़ेगा और सब कुछ बर्बाद हो जाएगा। हम इस मुद्दे को लेकर रावलपिंडी से मुजफ्फराबाद आए हैं। ये काफी दुर्भाग्यपूर्ण है।' पानी की कमी के चलते बड़ी संख्या में लोग विरोध-प्रदर्शन में शामिल हुए। प्रदर्शनकारियों नेे डब्ल्यूएपीडीए (जल और विद्युत विकास प्राधिकरण) के खिलाफ नारे भी लगाए। डब्ल्यूएपीडीए पीओके से बिजली उत्पन्न कर इसे पाकिस्तान के पंजाब और अन्य प्रांतों को आपूर्ति करता है। जिसके कारण पीओके में लोगों को घंटों तक बिजली कटौती का सामना भी करना पड़ रहा है। नीलम-झेलम हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के कारण मुजफ्फाराबाद से गुजरने वाली नीलम नदी अब सीवेज अपशिष्ट और गंध से भरी जल निकासी के रूप में दिखाई देती है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned