एमएसपी पर गेहूं की खरीद एक अप्रेल से

प्रदेश में 50 हजार बोरी की प्रतिदिन आवक

By: Jagmohan Sharma

Published: 19 Mar 2020, 12:18 AM IST

जयपुर. प्रदेश की उत्पादक मंडियों में गेहूं की दैनिक आवक बढ़कर वर्तमान में 50 हजार बोरी पहुंच गई है। हालांकि आवक बढऩे के बावजूद गेहूं की कीमतों में अपेक्षित गिरावट नहीं आई है। जयपुर मंडी में दड़ा गेहू मिल डिलीवरी पुराना 2080 रुपए तथा दड़ा गेहूं नया लूज 1950 रुपए प्रति क्विंटल पर लगभग स्थिर बने हुए हैं। व्यापारियों के अनुसार कोरोना वायरस महामारी के चलते जिंस बाजार में कामकाज ढीला चल रहा है। मित्तल दलिया के निर्माता मुकुल मित्तल ने बताया कि सरकार एक अप्रेल से एमएसपी पर गेहूं की खरीद शुरू करने जा रही है। इसे देखते हुए गेहूं में फिलहाल मंदी के आसार नहीं हैं। इस बीच बारां, कोटा, रामगंजमंडी तथा छबड़ा आदि मंडियों में गेहूं की आवक में लगातार इजाफा हो रहा है। ग्वार व ग्वार गम में गिरावट थम गई है। जोधपुर डिलीवरी ग्वार गम के भाव बुधवार को 5450 रुपए तथा ग्वार सीड जोधपुर डिलीवरी 3400 से 3450 रुपए प्रति क्विंटल पर स्थिर बनी हुई थी। हालांकि काला चना मिल डिलीवरी सुधरकर 4150 रुपए तथा चना दाल मीडियम 4800 रुपए प्रति क्विंटल पर पहुंच गई। उधर ग्राहकी का अभाव होने से कैटलफीड मार्केट में सन्नाटा छाया हुआ है। बिनौला खल 2250 से 2350 रुपए प्रति क्विंटल पर नरमी लिए हुए थी। थोक बाजार भाव इस प्रकार रहे: चक्की आटा नमस्कार 1340 रुपए प्रति 50 किलो जीएसटी पेड। बेसन अरावली 1400 रुपए प्रति 25 किलो। अजवायन मधुबाला 170, मधुबाला पोस्तदाना 1125, पोहा लाल गणेश 44, पोहा मधुबाला 43 रुपए प्रति किलो। खोपरा बुरादा ओमशक्ति 4700 रुपए प्रति 25 किलो।

Jagmohan Sharma Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned