Quarantine की लगी थी मोहर, पैदल निकले आगरा, कलेक्टर ने पकड़ा

— जिला कलेक्टर ने 200 फीट बाईपास पर दौरे में पकडे लोग

प्रदेश में लॉकडाउन ( coronavirus lock down ) और बड़ी सख्ती के बावजूद लोग समझ नहीं रहे। लापरवाह होकर स्वयं के साथ—साथ दूसरों को भी संक्रमित कर रहे है। ऐसा ही मामला, गुरूवार को जिला कलेक्टर जयपुर डॉ जोगाराम ( District Collector Dr. Jogaram ) ने पकडा। जब कलेक्टर दोपहर बाद क्षेत्र का दौरा करने निकले तो 200 फीट बाईपास पर उन्होंने होम क्वॉरेंटाइन ( Quarantine ) भेजे जाने वाले लोग को पकड़ा। ये लोग आगरा जा रहे थे। जानकारी अनुसार, ये लोग उदयपुर से ट्रक में बैठकर आए थे। इस दौरान कलेक्टर ने गाड़ी रोक कर पूछताछ की तो उनके हाथ में होम क्वारेंटाइन की मोहर लगी मिली। इस पर कलेक्टर ने तुरंत सीएमएचओ की टीम को मौके पर बुलाकर पुलिस की निगरानी में अलग—अलग बैठाकर देखरेख में भेजा। इस तरह लोगों को खुले में घूमने पर कलेक्टर ने नाराजगी जताई।

नहीं मिल रहा ड्राई सामग्री
जिला कलेक्टर जब शहर में धारा 144 की अनुपालना देखने निकले तो कच्ची बस्ती के लोगों से भी मिले। सामने आया है कि लोगों को ड्राई सामग्री नहीं मिल रही है। कलेक्टर ने जरुरतमंदों को निशुल्क भोजन की आपूर्ति एवं किराना की व्यवस्थाएं देखी। झोटवाड़ा खातीपुरा में दुकानदार की ओर से द्वारा आटे एवं कुछ सामग्री की कमी की शिकायत पर मौके पर ही आपूर्तिकर्ता फर्म को पाबंद कर आपूर्ति सुनिश्यचत कराई। झारखंड मोड पर खुले में रहने वालों से बातचीत की। खुली खाद्य सामग्री देने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए।

कलेक्टर ने यहां किया दौरा
Corona virus : इस दौरान दौरे में खातीपुरा, 200 फीट बाइपास, वैशाली, न्यू सांगानेर रोड, सांगानेर, टोंक रोड, जवाहर लाल नेहरू मार्ग, परकोटे का बाहरी क्षेत्र, खासाकोठी क्षेत्र का निरीक्षण किया। जिला कलेक्टर के दौरे में प्रशिक्षु आईएएस उत्साह चौधरी, शिल्पा सिंह, अतिरिक्त जिला कलक्टर द्वितीय पुरूषोत्तम शर्मा, चतुर्थ अशोक कुमार, एसडीएम युगान्तर शर्मा एवं अन्य अधिकारी मौजूद रहे। इन सभी ने कच्ची खाद्य सामग्री के पेकेट्स तैयार करने के कार्य का निरीक्षण भी किया।

surendra kumar samariya Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned