विधानसभा में सवालों के जवाब में फंसे उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी

स्पीकर ने संभाला, मंत्री को सही उत्तर देने को कहा

By: firoz shaifi

Published: 12 Feb 2021, 12:42 PM IST

जयपुर। राज्य विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी प्रदेश के नए कॉलेज खोलने के सवाल के जवाब में फंसते नजर आए। मंत्री ने सवाल के अलग-अलग जवाब दिए पर जिस पर नेता प्रतिपक्ष ने घेरने का प्रयास किया, इस पर स्पीकर सीपी जोशी ने मंत्री का बचाव करते हुए सवाल का सही जवाब देने को कहा। दरअसल सांगानेर से भाजपा विधायक अशोक लाहौटी ने सांगानेर सहित प्रदेश में कितने नए कॉलेज खोले जाने हैं, और उनके बजट आवंटन और जमीन उपलब्धता को लेकर सवाल पूछा था।

इस दौरान डूंगरपुर में लॉ कालेज संचालित होने का जवाब मंत्री दिया, इस पर नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने मंत्री के जवाब में गलती पकड़ते हुए कहा कि मंत्री ने जो जवाब दिया है उसमें डूंगरपुर में लॉ कॉलेज संचालित होने बताया जबकि उसी जवाब के दूसरे में कहा कि लॉ कॉलेज को बीसीआई ने मान्यता नहीं मिली इसलिए कॉलेज नहीं खुला, नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि इनमें से कौनसा जवाब सही है।

इस पर जब मंत्री सवालों से घिरते नजर आए तो स्पीकर जोशी को हस्तक्षेप करना पड़ा। जोशी ने कहा कि इन दोनों जवाबों में से कौनसा जवाब सही, जवाब को दुरुस्त किया जाए, मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री की बजट घोषणा में डूंगरपुर में लॉ कॉलेज खोलने की घोषणी की गई थी, लेकिन उसे बीसीआई मान्यता नहीं मिल पाई।


नकली शराब केस में सरकार ने की कार्रवाई
प्रश्नकाल में नकली शराब से मौतों से जुड़ा प्रश्न भी पूछा गया। उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने भरतपुर जिलें में जहरीली शराब से मौतों से जुड़ा सवाल पूछा कि नकली शराब बनाने वालों पर सरकार ने क्या कार्रवाई, जिस पर जबाव देते हुए संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि इस मामले में 15 आबकारी कार्मिकों और तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया है, साथ ही नकली शराब बनाने में लिप्त 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned