काम मांगने के बहाने करता था रैकी, फिर सस्ते डॉलर का लालच देकर करता था लूट

पहले काम मांगने के लिए संपर्क साधते, फिर बातों में रिश्तेदार के पास डॉलर होने का जाल फेंकते और सस्ते में डॉलर बेचने के बहाने से बुलाकर नकदी और सामान लेकर चंपत हो जाते

राजधानी के श्यामनगर थाना पुलिस ने अमेरिकी डॉलर सस्ते में बेचने का झांसा देकर ठगी करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी पहले काम मांगने के लिए संपर्क साधते, फिर बातों में रिश्तेदार के पास डॉलर होने का जाल फेंकते और सस्ते में डॉलर बेचने के बहाने से बुलाकर नकदी और सामान लेकर चंपत हो जाते थे।

थानाधिकारी संतरा मीणा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी पश्चिम बंगाल के हावड़ा में संतरागाछी हाल उत्तरप्रदेश, गाजियाबाद में लोणी की अंजली विहार कॉलोनी निवासी शेख रफीक (२४) है। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर पता लगा रही है कि उसने पहले कितने लोगों से ठगी की है।
यह था मामला

पुलिस ने बताया कि १६ जनवरी को हरमाड़ा के कृष्णा नगर निवासी मुकेश कुमार यादव ने थाने में मामला दर्ज करवाया था। इसमें बताया कि 12 जनवरी को वह सीकर रोड स्थित खेतान हॉस्पिटल के पास खड़ा था। तभी एक युवक ने बताया कि वह गुर्जर की थड़ी रहता है और घरेलू कार्य करता है। पहले जिनके यहां काम करता था उनका ट्रांसफर हो गया। इसलिए आप नौकरी लगवा दो। पीडि़त ने उसे मोबाइल नंबर देकर कहा कि कल ऑफिस आकर मिलना। ऑफिस आने पर उससे आईडी प्रूफ मांगा तो उसने कल देने को कहा। बातचीत के दौरान उसने कहा कि उसकी मौसी के पास 1600 डॉलर हैं। उनसे भी मिलवा दूंगा और आप उनके डॉलर रुपए में बदलवा देना।
इस तरह वारदात को दिया अंजाम

16 जनवरी की सुबह पीडि़त अपनी पत्नी के साथ महेश नगर में रिश्तेदार से मिलने आया और हाल ही में खरीदे प्लॉट के भुगतान के लिए तीन लाख रुपए साथ लेकर आया। पीडि़त गुर्जर की थड़ी स्थित हनुमान मंदिर पहुंचा और वहां पर आरोपी युवक भी आ गया। गाड़ी में बातचीत के दौरान उसका एक साथी भी आ गया और उन्होंने मुंह पर कुछ लगाकर उसे अचेत कर दिया। होश में आने पर देखा कि उसकी पत्नी भी बेहोश थी और दोनों आरोपी तीन लाख रुपए व लेपटॉप का बैग लेकर फरार थे।

Dinesh Gautam Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned