कांग्रेस राजस्थान में भी हिन्दुओं पर डालेगी डोरे, माताजी से लेकर बालाजी तक जाएंगे राहुल गांधी

पहले मंदिर दर्शन फिर सियासत, राहुल राजस्थान चुनाव में अपनाएंगे यह फार्मूला

By: pushpendra shekhawat

Published: 07 Jun 2018, 06:20 AM IST

सुनील सिंह सिसोदिया / जयपुर. मंदिरों से सियासत का फार्मूला कांग्रेस राजस्थान में भी लागू करेगी। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी राजस्थान में सियासत से पहले मंदिरों में दर्शन करेंगे। वे यहां जनता से मिलने से पहले उन मंदिरों में जाएंगे, जो आस्था के बड़े केंद्र हैं। पार्टी ने ऐसे मंदिरों की सूची दिल्ली भेज दी है।

 

 

राहुल गांधी अगले माह 15 जुलाई के आस पास प्रदेश में दौरे शुरू कर सकते हैं। सॉफ्ट हिंदुत्व को लेकर मंदिर दर्शन का प्रयोग राहुल ने गुजरात विधानसभा चुनाव से शुरू किया था, जो कर्नाटक विधानसभा चुनाव में भी देखने को मिला। अब राजस्थान में इसी तर्ज पर काम करने के लिए एआइसीसी ने प्रदेश के सभी प्रमुख मंदिरों की सूची, जिलों की भौगोलिक स्थिति और लोगों की मागों की रिपोर्ट मंगवाई है। सूत्रों के अनुसार दिल्ली में राहुल गांधी के राजस्थान दौरे को लेकर रोडमेप तैयार किया जा रहा है। राजस्थान के साथ मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और मिजोरम विधानसभा के चुनाव भी होंगे लेकिन राहुल का राजस्थान पर खास फोकस रहेगा। पार्टी को उम्मीद है कि एंटी इंकंबेंसी का सबसे ज्यादा फायदा कांग्रेस को राजस्थान में होगा।

 

प्राथमिकता में ये मंदिर

एआइसीसी को भेजी मंदिरों की सूची में पीसीसी ने कैलादेवी मंदिर, तनोट माता मंदिर, करणी माता मंदिर, सालासर बालाजी, ब्रह्माजी मंदिर पुष्कर, गोविन्द देवजी, सांवलिया सेठ, त्रिपुरा सुन्दरी आदि को शामिल किया है।

 

प्रियंका की भूमिका
राहुल गांधी के राजस्थान दौरे तय करने में उनकी बहन प्रियंका गांधी भी अहम भूमिका निभा रही हैं। प्रियंका राजस्थान के बारे में काफी कुछ जानती हैं। राहुल के दौरे में दलितों के घर भोजन करने को भी शामिल किया जा सकता है।

 

यह भी देखें : जयपुर में पहले कभी नहीं देखा होगा बंदरों का ऐसा गुस्सा, देखें हमले की Live Photos

यह भी देखें : छाए बादल, गिरा पारा, मिली राहत, तो खिले चेहरे, देखें Photos

Congress
Show More
pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned