वरदान साबित हो रही रेलवे की योजना, हजारों कामगारों को मिल रहा रोजगार


उत्तर पश्चिम रेलवे जोन में 91 हजार मानव दिन का लक्ष्य, डेढ़ हजार को मिलेगा रोजगार
जयपुर. कोरोना काल में भारतीय रेलवे प्रवासी मजदूरों के लिए वरदान साबित हो रहा है। रेलवे कामगारों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना के अंतर्गत रोजागार उपलब्ध करवा रहा है।

By: Sudhir Bile Bhatnagar

Published: 15 Jul 2020, 05:33 PM IST


इसमें उत्तर पश्चिम रेलवे भी इसमें जुटा हुआ है। रेलवे अधिकारियों के मुताबिक उत्तर पश्चिम जोन के जयपुर, अजमेर, जोधपुर और बीकानेर मंडल में गरीब कल्याण रोजगार योजना के तहत इंफ्रास्ट्रक्चर विकास को लिए कई प्रोजेक्ट में प्रवासी मजदूरों को काम उपलब्ध कराया जा रहा है। 125 दिन के लिए मिशन मोड पर चलाए चा रहे इस अभियान में जहां रेलवे ने देशभर में 8 लाख मानव दिन के बराबर रोजगार तय किए है। वहीं उत्तर पश्चिम रेलवे ने भी 91 हजार 260 मानव दिन की कार्य योजना तैयार की है। इसमें करीबन डेढ़ हजार प्रवासी मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। बात करें वर्तमान की तो अब तक लगभग छह सौ प्रवासी करीबन 6 हजार मानव दिन का काम कर चुके है और यह निरंतर जारी भी है।
इन कार्य में साबित
हो रहे मददगार
ट्रैक नवीनीकरण
कार्यालय व भवन निर्माण।
ट्रैक के समीप दीवार निर्माण।
रेलवे फाटक के समीप निर्माण
कार्य आदि।
यहां कर रहे काम
बीकानेर मंडल के लालगढ़ में क्वार्टर निर्माण का कार्य चल रहा है।
चूरू में ट्रैक के समीप दीवार निर्माण का कार्य चल रहा है।
अजमेर मंडल के मांगलियावास एरिया में ट्रैक नवीनीकरण का कार्य चल रहा है। इनमें प्रवासी मजदूर भी काम कर रहे है।

Sudhir Bile Bhatnagar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned