बारिश का पानी देखने गए दो बच्चों के साथ ऐसा कुछ हुआ कि गांव में मच गई चीख पुकार

बाली क्षेत्र में स्थित ललराई गांव रहने वाले दो बच्चे गौरव और स्वरुप गांव के बाहर नाडी में भरे बारिश के पानी को देखने चले गए थे।

By: JAYANT SHARMA

Published: 23 Aug 2020, 10:46 AM IST

जयपुर
प्रदेश में कई जिलों में बारिश अब काल बनकर बरस रही है। लापरवाही और अन्य कारणों से बारिश जनित हादसे बढ़ रहे हैं। बीती रात पाली जिले में भी बारिश के पानी में डूबने से एक के बाद एक तीन लोगों की मौत हो गई। इनमें दो बच्चे भी शामिल हैं। पाली के बाली क्षेत्र में स्थित ललराई गांव रहने वाले दो बच्चे गौरव और स्वरुप गांव के बाहर नाडी में भरे बारिश के पानी को देखने चले गए थे।

काफी देर तक जब बच्चे नहीं लौटे तो परिजन तलाश करते हुए वहां आ गए। वहां बच्चों के पैर के निशान और फिसलने के निशान मिले तो ग्रामीणों ने नाडी में भरे पानी में छलांग लगा दी। काफी देर के बाद दोनो बच्चों का शव वहां से बरामद किया गया। ग्रामीणों का कहना था कि प्रभावशाली लोगों ने यहां खनन कार्य कराया और इसक अंदाजा सभी विभागों को भी है। पहले आठ से दस फीट पानी भरता था लेकिन अब तीस से चालीस फीट गहरे तक खनन कर दिया गया।

उधर पाली में ही खेत के पास से आवारा मवेशियों को भगाने के दौरान पैर फिलसने से अस्सी साल के जुगाराम की मौत हो गई। जुगाराम एक नाले में गिर गए जिसमें कई फीट पानी भरा हुआ था।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned