राजस्थान में मौसम ने खाया पलटा, तेज हवा के साथ बारिश और गिरे ओले, किसानों का चिंता बढ़ी

कोरोना के कहर के बीच प्रदेश में पिछले कई दिन से मौसम रोजाना नई करवट ले रहा है। जयपुर सहित प्रदेश के कई जिलों में ठंडी हवा के साथ बारिश हुई।

By: kamlesh

Published: 23 Apr 2020, 07:30 PM IST

जयपुर। कोरोना के कहर के बीच प्रदेश में पिछले कई दिन से मौसम रोजाना नई करवट ले रहा है। जयपुर सहित प्रदेश के कई जिलों में ठंडी हवा के साथ बारिश हुई। नागौर में कई स्थानों पर मौसम बदला और कहीं तेज बारिश के साथ आंधी चली तो कई स्थानों पर ओले गिरे। मौसम के ऐसे ही बदलते मिजाज के बीच मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में कई जगह व्रजपात, बारिश और तेज हवाएं चलने की चेतावनी दी है। जयपुर में सुबह से ही बादलों को डेरा जमा लिया। जयपुर सहित ग्रामीण इलाकों में शाम को तेज बारिश हुई। जयपुर में 2.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। इससे मौसम में अच्छी खासी ठंडक हो गई। जयपुर के साथ साथ सवाई माधोपुर, करौली, चूरू, झुंझुनू, सीकर,पाली, भीलवाड़ा, चित्तौड़, अजमेर, दौसा, अलवर, भरतपुर, नागौर, हनुमानगढ़, जैसलमेर और बीकानेर में भी तेज हवा के साथ बारिश हुई। वहीं दूसरी ओर मौसम के बिगड़े मिजाज से किसानों की चिंता बढ़ गई है, क्योंकि खेतों में फसल कटी हुई पड़ी है। वहीं, कई जिलों में फसल कटाई का काम चल रहा है। कई किसान फसलों को काट चुके हैं, लेकिन वो खेतों खुली रखी हुई है। इससे कटी फसल में नुकसान होने आशंका बढ़ गई है।

मौसम विभाग की चेतावनी
मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार और 27 अप्रेल को श्रीगंगानगर, चूरू, हनुमानगढ़, झुंझुनू, सीकर, सिरोही भरतपुर, करौली, धौलपुर, जयपुर, अलवर, दौसा, सवाइमाधोपुर, कोटा, टोंक में बारिश का दौर रहेगा।

बूंदाबांदी, ओले गिरे
नागौर में कई स्थानों पर मौसम बदला और कहीं तेज बारिश के साथ आंधी चली तो कई स्थानों पर ओले गिरे। मूण्डवा के निकट थिरोद गांव, कुचेरा के आस-पास के क्षेत्र में तथा नावां के निकट खाकड़की गांव के पास ओले गिरे। इसी प्रकार मूण्डवा के दक्षिण पश्चिम की कांकड़ तथा आसपास के गांव में तेज आंधी के साथ ओले गिरे। इसी प्रकार हरसौर के आस-पास के क्षेत्र में तेज बारिश के साथ ओले गिरे।

बारिश ने बढ़ाई किसानों की चिंता
श्रीगंगानगर में गुरुवार अल सुबह से ही मौसम का मिजाज फिर बिगड़ा। तेज हवा के साथ बूंदाबांदी शुरू हो गई। बीच-बीच में बिजली गरजना भी जारी रही। तेज हवा चलने लगी, बिजली गरजने लगी और शुरू हो गई रिमझिम। रिमझिम का यह दौर बीच में कई बार थमा, लगभग एक घंटे वर्षा हुई। इससे नुकसान बहुत ज्यादा है और लाभ बहुत कम।

पहाडों की बारिश ने बिगाड़ा शेखावाटी का मौसम
कोरोना के कहर के बीच शेखावाटी में पिछले कई दिन से मौसम रोजाना नई करवट ले रहा है। सीकर में सुबह से ही बादलों ने डेरा जमा लिया। दिन में नम हवाएं चली। दोपहर बाद कई जगहों से हल्की बूंदाबांदी हुई। इससे मौसम में अच्छी खासी ठंडक हो गई। उधर, झुंझुनूं अंचल में दोपहर बाद बादल छाने के साथ ही तेज हवा और तेज गर्जना के साथ हल्की बरसात हुई। जिला मुख्यालय समेत ग्रामीण अंचल में करीब दस मिनट तक हल्की बरसात का दौर चला। इससे पहले बुधवार देर रात घने बादल छाए और कई इलाकों में बूंदाबांदी हुई।

weather update

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned