निर्दलीय विधायक हुड़ला और टांक बोले: हम पर लगे आरोप निराधार, सरकार जांच करे

ACB ने राजस्थान में राज्यसभा चुनाव के समय विधायकों की खरीद फरोख्त के मामले में तीन निर्दलीय विधायकों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर प्रारंभिक जांच शुरू की है।

By: santosh

Updated: 12 Jul 2020, 01:27 PM IST

जयपुर। भष्ट्राचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने राजस्थान में राज्यसभा चुनाव के समय विधायकों की खरीद फरोख्त के मामले में तीन निर्दलीय विधायकों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर प्रारंभिक जांच शुरू की है।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो पीसी एक्ट के तहत इन विधायकों को नोटिस देकर पूछताछ के लिए कभी भी बुला सकती है। एसीबी महानिदेशक डॉ. आलोक त्रिपाठी ने बताया कि ब्यूरो में मुख्य सचेतक महेश जोशी ने परिवाद दिया था, लेकिन उसमें प्राथमिकी दर्ज करने जैसे तथ्य नहीं थे। हालांकि तभी से एसीबी ने खुद सूचना तंत्र विकसित किया और मामले पर निगरानी रखी।

एसीबी की निगरानी के दौरान स्पष्ट हुआ कि निर्दलीय विधायक ओमप्रकाश हुडला, सुरेश टांक और खुशवीर सिंह राज्य के डूंगरपुर और बांसवाड़ा क्षेत्र में पहुंचे हैं। उनके पास मोटी धन राशि होने का भी पता चला। तीनों विधायकों ने डूंगरपुर और बांसवाड़ा के कई विधायकों से संपर्क साधा और उन्हें करोड़ों रुपए का प्रलोभन भी दिया।

प्रलोभन था कि जरूरत पडऩे पर डूंगरपुर और बांसवाड़ा के विधायक उनका साथ दें। इस बात की पुष्टि होने पर शनिवार को एसीबी मुख्यालय में तीनों निर्दलीय विधायकों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। निर्दलीय विधायक ओमप्रकाश हुड़ला और विधायक सुरेश टांक ने कहा कि हम पर लगाए गए आरोप निराधार हैं।

- टांक ने कहा: मैं राज्यसभा चुनाव में गहलोत के साथ था और कांग्रेस प्रत्याशी को समर्थन दिया। अब सदमे में हूं कि मेरे खिलाफ मामला दर्ज हो गया। मैं तो मेरे भाईसाहब से मिलने बांसवाड़ा गया था। वहां विधायक रमीला खड़िया से पन्द्रह मिनट की मुलाकात हुई थी। हमने डील या खरीद-फरोख्त जैसी कोई बात नहीं की।

- हुड़ला ने कहा: मैं बाड़ाबंदी में था और कांग्रेस प्रत्याशी को समर्थन दिया। फिर डील या खरीद-फरोख्त कैसे कर सकता हूं? मकान के लिए मार्बल लेने किशनगढ़ गया था। वहां टांक से मुलाकात हुई और फिर दर्शन करने नाथद्वारा चले गए। हम साथ थे, इसका मतलब यह नहीं कि विधायकों की खरीद-फरोख्त करने गए थे। एसीबी ने परिवाद दर्ज किया है, मामले की पूरी जांच होनी चाहिए।

सीएम को दी सफाई
सूत्रों के अनुसार शुक्रवार को विधायक टांक, खुशवीर ने सीएम से मुलाकात कर और हुड़ला ने फोन कर सफाई दी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned