प्रदेश का प्रशासनिक तंत्र होगा और मजबूत, ‘बेड़े’ में जुड़ने जा रहे एक हज़ार से भी ज़्यादा आरएएस अफसर

आरपीएससी की ओर से आरएएस मेंस परीक्षा- 2018 ( RAS Mains 2018 Exam Result ) का परिणाम गुरुवार को जारी होने के साथ ही नए प्रशासनिक अधिकारियों की नियुक्ति का रास्ता साफ़ हो गया है। हालांकि अभी सफल हुए अभ्यर्थियों को आरएएस बनने के लिए साक्षात्कार के आखिरी चरण से गुज़रना होगा।

By: nakul

Published: 10 Jul 2020, 11:59 AM IST

जयपुर

कोरोना संकटकाल के बीच प्रदेश का प्रशासनिक तंत्र और मजबूत होने जा रहा है। दरअसल, प्रदेश को अब एक हज़ार से भी ज़्यादा नए प्रशासनिक अधिकारी मिलने जा रहे हैं। राजस्थान लोक सेवा आयोग, आरपीएससी की ओर से आरएएस मेंस परीक्षा- 2018 का परिणाम गुरुवार को जारी होने के साथ ही इन नए प्रशासनिक अधिकारियों की नियुक्ति का रास्ता साफ़ हो गया है। हालांकि अभी सफल हुए अभ्यर्थियों को आरएएस बनने के लिए साक्षात्कार के आखिरी चरण से गुज़रना होगा। वैश्विक महामारी के इस दौर में एक साथ एक हज़ार से भी ज़्यादा अधिकारी मिलने से प्रशासनिक कार्यों के गति पकड़ने की संभावना है।

अब साक्षात्कार करना होगा पास
परीक्षा परिणाम जारी होने के बाद अब अस्थायी रूप से इंटरव्यू के लिए पात्र घोषित हुए कुल 2 हज़ार 10 अभ्यर्थियों में 1 हज़ार 51 पदों पर कश्मकश रहेगी। परीक्षा परिणाम में सफल हुए अभ्यर्थियों में से 1 हज़ार 953 टीएसपी क्षेत्र से और 57 अभ्यर्थी टीएसपी क्षेत्र से हैं। परिणाम आने के बाद करीब 16 हजार अभ्यर्थी आरएएस बनने की दौड़ से बाहर हो गए हैं।

इधर आयोग अब जल्द ही उत्तीर्ण हुए अभ्यर्थियों के साक्षात्कार करवाएगा। जल्द ही साक्षात्कार का विस्तृत कार्यक्रम जारी किया जाएगा। माना जा रहा है कि अगस्त या सितंबर में साक्षात्कार शुरू हो जायेंगे। इसके बाद प्रक्रिया आगे बढ़ेगी और चयनित अभ्यर्थियों को आरएएस अफसर की औपचारिक रूप से ज़िम्मेदारी मिल जायेगी। इन नए अफसरों को विभिन्न जिलों के टीएसपी और नॉन-टीएसपी क्षेत्रों में नियुक्ति दी जायेगी।

गौरतलब है कि राजस्थान राज्य एवं अधीनस्थ सेवा के कुल 1051 पदों पर आरपीएससी के माध्यम से भर्ती हुई है। आयोग ने 25- 26 जून 2019 को आरएएस मुख्य परीक्षा का आयोजन किया था। इसके बाद परीक्षा हुए एक साल से अधिक समय बीत गया, लेकिन कोर्ट के आदेश के चलते आयोग परिणाम जारी नहीं कर पा रहा था। इस पदों पर प्रदेशभर से 18 हज़ार अभ्यर्थियों के बीच कश्मकश थी।

एमबीसी वर्ग के अभ्यर्थियों को मिला लाभ
आरएएस-2018 भर्ती में इस बार एमबीसी (मोस्ट बैकवर्ड क्लास) वर्ग के अभ्यर्थियों को अतिरिक्त आरक्षण का लाभ मिला है। दरअसल, पिछले दिनों एमबीसी वर्ग के अभ्यर्थियों को सरकार ने 4 प्रतिशत आरक्षण का अतिरिक्त फायदा देने का फैसला लिया था। इसके बाद इस वर्ग के अभ्यर्थियों को एक की जगह पांच प्रतिशत आरक्षण का लाभ मिला। पदों के हिसाब से एमबीसी वर्ग को 34 अतिरिक्त पदों का फ़ायदा मिला।

nakul Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned