लिंगानुपात सुधार में राजस्थान फिर अव्वल, मिलेगा पुरस्कार

लिंगानुपात सुधार में राजस्थान फिर अव्वल, मिलेगा पुरस्कार

neha soni | Publish: Jan, 19 2019 03:12:39 PM (IST) | Updated: Jan, 19 2019 03:12:40 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

झुंझूनु और गंगानगर में बेहतर क्रियान्वयन में शिक्षा के स्तर में सुधार और लिंगानुपात में कमी के लिए चुना गया

जयपुर. लिंगानुपात और बालिका शिक्षा में पिछड़े रहने वाला राजस्थान अब
देश में बेटियों के लिए बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं स्कीम के तहत प्रदेश एक बार फिर से अव्वल आया है। पांच राज्यों में से राजस्थान के झुंझूनु और गंगानगर में बेहतर क्रियान्वयन में शिक्षा के स्तर में सुधार और लिंगानुपात में कमी के लिए चुना गया है।

24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस के तहत महिला और बाल विकास मंत्रालय द्वारा नई दिल्ली में केन्द्रीय महिला बाल विकास मंत्री मेनका गांधी श्रेष्ठ राज्य श्रेणी में राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित करेगी। 2011 की जनगणना के अनुसार राजस्थान के लिंगानुपात के स्तर में भी सुधार देखा गया है। प्रधानमंत्री द्वारा शुरू किए गए अभियान में प्रदेश के लिंगानुपात में भी कमी आई है। 2015 में जहां 1000 पुरुषों पर 929 महिलाएं, 2016 में 938 और 2017-18 वही अब यह बढकऱ 950 तक पहुंच गई है।

राजस्थान में निरंतर हो रहे ये बदलाव प्रदेश के लिए गर्व की बात है।

READ MORE: https://www.patrika.com/rajasthan-news/

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned