जनता की जनप्रतिनिधि से रहती हैैं उम्मीदें, उसे पूरी करें— विधानसभा अध्यक्ष

 

— अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्मेलन का हुआ आयोजन
— राज्य विधानसभा अध्यक्ष सी पी जोशी ने भी रखी अपनी बात

By: Arvind Singh Shaktawat

Published: 15 Sep 2021, 07:38 PM IST


अरविन्द सिंह शक्तावत

जयपुर। विधानसभा अध्यक्ष सी पी जोशी ने कहा है कि संसदीय लोकतंत्र में बड़ी ताकत होती है। इसके माध्‍यम से समस्‍याओं का निराकरण आसानी से कराया जा सकता है। सदन ऐसा प्‍लेटफार्म है , जहां सत्‍तापक्ष और विपक्ष के सदस्‍य अपनी भूमिका का प्रभावशाली ढंग से निर्वहन कर सकते हैं। जनप्रतिनिधि से जनता की अपेक्षाएं रहती है कि उनकी समस्याएं दूर होंगी।
विधान सभा अध्‍यक्ष जोशी ने बुधवार को यहां वीडियो कॉन्‍फ्रेन्‍स के माध्‍यम से 81वें अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्‍मेलन में भाग लिया। उन्होंने प्रभावी और सार्थक लोकतंत्र को बढ़ावा देने में विधायिका की भूमिका विषय पर अपनी बात रखी। इस सम्‍मेलन का आयोजन लोक सभा की ओर से किया था। सम्मेलन में सी पी जोशी ने कहा कि सदन में सत्तापक्ष व विपक्ष को अपनी भूमिका का प्रभावशाली तरीके से निर्वहन करना चाहिए। जनप्रतिनिधि से क्षेत्र के मतदाताओं को अपेक्षा होती है कि उनके प्रतिनिधि क्षेत्र की समस्‍याओं को सदन में प्रभावशाली तरीके से रखे, ताकि समस्‍याओं का निराकरण हो सके।
जोशी ने कहा कि संसदीय लोकतंत्र में समस्‍याओं को अलग-अलग तरीके से उठाया जा सकता है। जनप्रतिनिधि की यह जिम्‍मेदारी होती है कि वे क्षेत्र की समस्‍याओं की तरफ सरकार का ध्‍यान आकर्षित करें और समस्‍याओं का निदान भी कराने का प्रयास करें। प्रश्‍नकाल, ध्‍यानाकर्षण प्रस्‍ताव, शून्‍यकाल और विभिन्‍न मुद्दों पर चल रही बहस में समस्‍याओं को प्रभावी तरीके से रखा जा सकता है।

Arvind Singh Shaktawat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned