भारी सुरक्षा के बीच होगा राजस्थान में मतदान, सवा लाख जवान होंगे तैनात, बूथों की निगरानी करेगी अर्द्धसैन्य बलों की कम्पनियां

भारी सुरक्षा के बीच होगा राजस्थान में मतदान, सवा लाख जवान होंगे तैनात, बूथों की निगरानी करेगी अर्द्धसैन्य बलों की कम्पनियां

Dinesh Saini | Publish: Oct, 13 2018 02:47:51 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news/

जयपुर। चुनाव आयोग ने मतदान के लिए सुरक्षा बंदोबस्त की तैयारी शुरू कर दी है। इस बार गत चुनावों के मुकाबले अधिक जाब्ता लगाया जाएगा। पहले जहां अर्द्धसैन्य बलों की करीब 500 कम्पनियां लगाई गई थीं, अब 600 कम्पनियां लगाई जाएंगी।

ये कम्पनियां सोमवार से प्रदेश में पहुंचना शुरू हो जाएंगी। संवेदनशील व अति संवेदनशील बूथ बढऩे के कारण जाब्ता बढ़ाया जा रहा है। आयोग ने अब पुलिस से प्रतिदिन जाब्ते की जानकारी लेना शुरू कर दिया है। पहले चरण में सोमवार को 50 कम्पनियां जयपुर पहुंचेंगी। पुलिस विभाग ने 650 कम्पनियां मांगी थी। केन्द्र से वार्ता के बाद 600 कम्पनियों पर एकराय हुई है। इस तरह करीब 45 हजार जवान प्रदेश में शान्तिपूर्ण मतदान कराने के लिए केंद्र से मिलेंगे। थानों की पुलिस, होमगार्ड व आरएसी मिलाकर 80 हजार से अधिक जवान प्रदेश पुलिस के पास मतदान कराने के लिए उपलब्ध होंगे।

हर मोबाइल पार्टी को मिलेगा वायरलेस सैट (Rajasthan Assembly Election 2018)
चुनाव के दौरान फील्ड में तैनात टीमों को एक नेटवर्क से जोडऩे के लिए वायरलेस सैट उपलब्ध कराए जाएंगे। इसके लिए पुलिस ने डायरेक्ट्रेट ऑफ कॉर्डिनेशन पुलिस वायरलेस (डीसीपीडब्लू) से सम्पर्क किया है। गृह मंत्रालय के अधीन कार्यरत यह विभाग सभी राज्यों को जरूरत पडऩे पर अतिरिक्त वायरलेस सैट उपलब्ध कराता है। चुनाव के दौरान डायरेक्ट्रेट ही करीब 3000 वायरलेस सैट उपलब्ध कराएगा।

चुनाव के साथ अतिक्रमण पर भी रखें नजर
विधानसभा चुनाव की आचार संहिता के दौरान अवैध कब्जे व अतिक्रमण न हों, इसके लिए यूडीएच ने अधिकारियों को पाबंद किया है। इसमें कहा गया है कि चुनाव ड्यूटी में लगे अधिकारी चुनाव ड्यूटी के साथ क्षेत्र में सक्रियता बरतें। अतिक्रमण न हो, इसके लिए मॉनिटरिंग करें।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned