पत्रकारों से बोेले किरोड़ी— मुझे क्यों उलझाते हो, बड़ी मुश्किल से 10 साल बाद वापिस आया हूं

पत्रकारों से बोेले किरोड़ी— मुझे क्यों उलझाते हो, बड़ी मुश्किल से 10 साल बाद वापिस आया हूं

Nidhi Mishra | Publish: Oct, 13 2018 02:57:45 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

जयपुर। भाजपा कार्यालय पर शनिवार को चुनाव घोषणा पत्र समिति की दूसरी बैठक आयोजित हुई। बैठक में पार्टी के कई बड़े चेहरे शामिल हुए। बैठक खत्म होने के बाद पत्रकारों ने पार्टी के दिग्गजों से फीडबैक लेना चाहा। ऐसे में जब मीडियाकर्मी किरोड़ीलाल मीणा के पास पहुंचे, तो उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा, मुझे क्यों उलझाते हो, बड़ी मुश्किल से 10 साल बादि वापिस आया हूं। मीणा का इतना कहना था और वहां मौजूद सभी लोग जोर से हंस पड़े। चुनावी घोषणा पत्र में मीणा ने बताया कि इसमें कई मुद्दों को जोड़ा जा रहा है।


वहीं पंचायती राज मंत्री राजेंद्र राठौड़ ने मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी शासन में है। पिछली बार के संकल्प पत्र के 90 फीसदी वादे हमने पूरे किए हैं। ऐसे में इस बार भी घोषणा पत्र में उन मुद्दों और वादों को शामिल किया जाएगा, जिन्हें पूरा करने की क्षमता में हम में होगी। राठौड़ ने कहा कि पार्टी की आगामी बैठक अब 20 अक्टूबर को होगी। हमारा प्रयास रहेगा कि लगभग दो सप्ताह के अंदर घोषणा पत्र के प्रारूप को अनुमोदन के लिए प्रदेशाध्यक्ष और मुख्यमंत्री के पास भेज दें।

 

 

दिखेगी आरएसएस की झलक
बीजेपी मुख्यालय पर घोषणा पत्र समिति की बैठक में चर्चा हुई कि घोषणा पत्र में किन-किन बातों का समावेश करना है। ये तय माना जा रहा है कि इस बार घोषणा पत्र में आरएसएस की झलक दिखेगी। इसके लिए 20 अक्टूबर को विचार-परिवार, युवा औऱ कई समाजों के साथ बैठक कर घोषणा पत्र तैयार किया जाएगा। इसके बाद 24 को फिर समिति सदस्य एक साथ बैठकर इसे अंतिम रूप देंगे। दो सप्ताह के भीतर इसे प्रदेशाध्यक्ष और पार्टी के आला नेताओ को भेज दिया जाएगा। बैठक में जहां-जहां बीजेपी की सरकार है और जहां चुनाव होने है, वहां जारी घोषणा पत्रों पर चर्चा की गई। ये तय किया गया कि जिन घोषणाओं को पूरा किया जा सकता है, उन्हें घोषणा पत्र में शामिल किया जाएगा। साथ ही सभी जिलाध्यक्षो से भी इस संबंध में चर्चा होगी। राठौड़ ने दावा किया कि पिछली बार के सुराज संकल्प पत्र की 90 फीसदी घोषणाओं को पूरा कर दिया गया है। इन मुद्दों को करेंगे शामिल -नर्मदा का पानी, यमुना का पानी सहित सभी इंटर स्टेट के मुद्दों को शामिल किया जाएगा -बेरोजगारों को समुचित मात्रा में रोजगार दिए जाएंगे। -बेरोजगारों को स्टाई फण्ड देने पर भी विचार। -सीमावर्ती जिलों, एसटी वर्ग, एससी वर्ग, सामाजिक मुद्दों और आमजन के हितों को रखा जाएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned