भगवान के लिए राजस्थान को अवैध शराब से बचाइए-राठौड़

शून्यकाल में विधानसभा में अवैध और नकली शराब का मामला भी गूंजा। उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ और कोटा दक्षिण विधायक संदीप शर्मा ने मामला उठाया और सरकार को इन कामों में लिप्त परिवारों के पुनर्वास की मांग की। राठौड़ ने यह तक कहा कि भगवान के लिए राजस्थान को बचाइए।

By: Umesh Sharma

Published: 12 Feb 2021, 01:48 PM IST

जयपुर।

शून्यकाल में विधानसभा में अवैध और नकली शराब का मामला भी गूंजा। उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ और कोटा दक्षिण विधायक संदीप शर्मा ने मामला उठाया और सरकार को इन कामों में लिप्त परिवारों के पुनर्वास की मांग की। राठौड़ ने यह तक कहा कि भगवान के लिए राजस्थान को बचाइए।

राठौड़ ने कहा कि ऐसा कोई वर्ष नहीं होगा, जब लोग जहरीली शराब से मरे नहीं हो। भीलवाड़ा में कीटनाशक और नींद की गोलियों का प्रयोग किया जा रहा है। जब तक ऐसे काम करने वालों पर नकेल नहीं कसी जाएगी, तब तक ये दुखांतिकाएं होती रहेंगी। राठौड़ ने आबकारी विभाग के अभियान का उल्लेख करते हुए कहा कि आपके विभाग ने एक सप्ताह तक अभियान चलाया। 33 लाख लीटर से ज्यादा वॉश नष्ट किया गया। 2682 अवैध शराब की भट्टियां नष्ट की। राठौड़ ने राजस्थान पत्रिका में जमवारामगढ़ और बस्सी के पास नकली शराब कारोबार की फोटो और खबर का भी उल्लेख किया।

तीन साल से सर्वे नहीं

राठौड़ ने कहा कि तीन साल से शराब में लिप्त परिवारों का कोई सर्वे नहीं हुआ है। पूर्व में किए गए सर्वे में 18 जिलों के 70 हजार परिवार इस धंधे में लिप्त पाए गए थे। इन लोगों लोगों को मुख्यधारा से जोड़ने और रोजगार देने के लिए नवजीवन योजना शुरू की गई थी। इस योजना के तहत ऐसे लोगों को रोजगार व अन्य सुविधाएं देने के लिए आबकारी राजस्व का एक प्रतिशत इन पर खर्च किया जाना था, मगर आज तक एक पैसा खर्च नहीं किया गया है। इसलिए योजना को लेकर सरकार को काम करना चाहिए।

विभागों को अवैध शराब की पूरी जानकारी

कोटा दक्षिण विधायक संदीप शर्मा ने लगाया आरोप कि कच्ची शराब की संबंधित विभागों को जानकारी है। इसके बाद भी फौरी कार्रवाई होती है। अगर इसी तरह कच्ची शराब का कारोबार चलता रहा तो परिवार बर्बाद हो जाएंगे। कोटा के अमृत कुंआ में कच्ची शराब का कारोबार होता है, मगर प्रशासन और पुलिस मौन है। उन्होंने कहा कि जब तक इनका पुनर्वास नहीं होगा और सरकार रोजगार उपलबध नहीं कराएगी, तब तक इनका भला नहीं हो सकता। उन्होंने यह भी मांग की कि विभागों को पाबंद करें की वो शराब माफियाओं को सहयोग करना बंद करें।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned