सबसे ज्यादा सवालों के साथ माहेश्वरी-देवनानी का सदन में होगा ‘हल्लाबोल’! तो कोरोना की भी सुनाई देगी गूंज

- विधानसभा सत्र कल से, जनहित के मुद्दों से गूंजेगा सदन, प्रश्नकाल में सवालों से घिरेगी सरकार, दो पूर्व मंत्रियों ने लगाए सबसे ज़्यादा प्रश्न, किरण माहेश्वरी और वासुदेव देवनानी की ‘ज़बरदस्त’ तैयारी, कोरोना-ऊर्जा-पीडब्लूडी से जुड़े सवाल सबसे ज़्यादा, सत्र का हंगामेदार रहना तय



By: nakul

Published: 13 Aug 2020, 12:42 PM IST

जयपुर।

विधानसभा सत्र के दौरान पूर्व मंत्रियों की जोड़ी गहलोत सरकार पर सबसे ज़्यादा हमलावर रहेगी। इसके संकेत विधायकों की ओर से लगाए गए सवालों से देखने को मिले हैं। जानकारी के अनुसार सत्र को लेकर तय हुए दो दिन के प्रश्नकाल में सबसे ज़्यादा सवाल पूव मंत्री व विधायक किरण माहेश्वरी और पूर्व मंत्री वासुदेव देवनानी ने लगाये हैं।

मिली जानकारी के अनुसार सदन में सबसे ज्यादा सवाल विधायक किरण माहेश्वरी की ओर से लगाए गए हैं। उन्होंने सरकार से अलग-अलग मुद्दों पर जवाब मांगने के लिए कुल 27 सवाल लगाए हैं।

इसी तरह से पूर्व मंत्री वासुदेव देवनानी के भी 25 सवाल प्रश्न काल के लिए रिकॉर्ड पर लिए गए हैं। इस लिहाज़ से माहेश्वरी के बाद देवनानी सदन में सबसे ज्यादा सवाल लगाने वाले विधायकों में दूसरे नंबर पर हैं।

सबसे ज़्यादा ‘कोरोना’ के सवाल
जानकारी के अनुसार सदन के पहले दो दिन में होने वाले प्रश्नकाल के लिए विधायकों से सबसे ज़्यादा वैश्विक महामारी कोरोना के दावों और ज़मीनी स्तर पर हकीकत से जुड़े सवाल लगाए हैं। जबकि इसके बाद सबसे ज़्यादा प्रश्न ऊर्जा विभाग और फिर सार्वजनिक निर्माण विभाग के सन्दर्भ में लगाए गए हैं।

सामने आया है कि पहले दो दिन के प्रश्नकाल में चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा के स्वास्थ्य विभाग से जुड़े सबसे ज़्यादा सवाल लगे हैं। इसके लिए कुल 54 सवाल पूछे जा रहे हैं जिनमें से 26 सवाल कोरोना से जुड़े हुए हैं। इसी तरह से ऊर्जा मंत्री डॉ बीडी कल्ला के महकमें से जुड़े 27 सवाल लगे हैं। जबकि सार्वजनिक निर्माण विभाग से जुड़े 26 सवाल लगे हैं। ऐसे में तय माना जा रहा है कि इस बार का सत्र भी हंगामेदार रहेगा।

nakul Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned