scriptRajasthan Barmer RTI activist Amraram Godara Latest LIVE News Update | RTI Activist Amraram Godara : प्रदेश के सबसे खौफनाक हमले के पीड़ित को लेकर अब ये क्या आ गई खबर? | Patrika News

RTI Activist Amraram Godara : प्रदेश के सबसे खौफनाक हमले के पीड़ित को लेकर अब ये क्या आ गई खबर?

- आरटीआई कार्यकर्ता अमराराम गोदारा मारपीट मामला, जयपुर में जारी है अमराराम का धरना- न्याय की कर रहे मांग, आज धरना स्थल पर पहुंचेंगे आरएलपी के तीन विधायक- अन्य पदाधिकारी, 11 मार्च से शहीद स्मारक पर चल रहा अमराराम का बेमियादी धरना, विधानसभा से लेकर संसद तक में उठ चुका है पीड़ित को न्याय दिलाने का मुद्दा

 

जयपुर

Published: March 29, 2022 11:43:36 am

जयपुर।

बाड़मेर ज़िले के आरटीआई कार्यकर्ता अमराराम गोदारा का जयपुर के शहीद स्मारक पर 11 मार्च से शुरू हुआ बेमियादी धरना जारी है। गोदारा अपने साथ हुए जघन्य मारपीट की घटना के आरोपियों की गिरफ्तारी और न्याय की मांग पर धरने पर बैठे हुए हैं। चौंकाने वाली बात ये है कि आरटीआई कार्यकर्ता के साथ हुई मारपीट का मुद्दा विधानसभा से लेकर संसद तक में उठ चुका है, लेकिन पीड़ित को अब भी इस मामले में कोई राहत नसीब नहीं हो रही है।

Rajasthan Barmer RTI activist Amraram Godara Latest LIVE News Update

तीन विधायक पहुंचेंगे धरना स्थल
राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (रालोपा) के तीन विधायकों का प्रतिनिधिमंडल आज जयपुर के शहीद स्मारक स्थित धरना स्थल पहुंचकर पीड़ित आरटीआई कार्यकर्ता अमराराम से मुलाक़ात करेगा। इस दौरान आरएलपी के अन्य पदाधिकारी भी मौजूद रहेंगे। आरएलपी प्रदेश अध्यक्ष व भोपालगढ़ विधायक पुखराज गर्ग, खींवसर विधायक नारायण बेनीवाल व मेड़ता विधायक इंदिरा देवी बावरी सहित जयपुर जिले के सभी आरएलपी पदाधिकारी गोदारा की न्याय के लिए जारी मुहीम में शामिल होंगे।

गंभीरता से नहीं लिया जा रहा प्रकरण: हनुमान बेनीवाल
आरएलपी सांसद हनुमान बेनीवाल ने अमराराम गोदारा मामले की जांच में पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाये हैं। सांसद ने कहा कि उन्होंने इस मामले में राजस्थान पुलिस महानिदेशक और पीड़ित अमराराम गोदारा से भी दूरभाष पर वार्ता की है। लेकिन ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि विधानसभा व लोकसभा में मामला उठने के बावजूद राज्य सरकार इस प्रकरण को गंभीरता से नहीं ले रही है।

बेनीवाल ने कहा कि सरकार को मामले में पीड़ित की सभी मांगों पर सहमति व्यक्त करने की जरूरत है और आगामी दिनों में यदि जरूरत पड़ी तो मैं स्वयं धरना स्थल पर पहुंचकर न्याय की मुहीम में आवाज़ बुलंद करूंगा।

ये था मामला
बाड़मेर ज़िले में आरटीआई कार्यकर्ता अमराराम गोदारा से कुछ अज्ञात हमलावरों ने बर्बरता से मारपीट की थी। पिछले साल के जाते-जाते मामले ने खूब तूल पकड़ा था। आरोपी दबंगों ने मानवता को शर्मसार हुए आरटीआई कार्यकर्ता का अपहरण करने के बाद उसके हाथ-पैर तोड़ दिए थे और उसे यातना देते हुए पैरों में सरिया और कीलें तक ठोंक दी थीं। ये सब इसलिए होना सामने आया था कि पीड़ित आरटीआई कार्यकर्ता अमराराम गोदारा ने भ्रष्टाचार और अवैध शराब बिक्री के खिलाफ मुहीम छेड़ी हुई थी।

न्याय के अनिश्चितकालीन धरना
आरटीआई कार्यकर्ता से मारपीट मामला सामने आने के बाद सभी राजनीतिक दलों के जनप्रतिनिधियों ने घटना की निंदा की थी। पीड़ित को न्याय दिलाने और आरोपियों की गिरफ्तारी कर उन्हें सख्त सज़ा दिलाये जाने की पैरवी भी की थी। हालांकि फिलहाल की स्थिति ये है कि पीड़ित अमराराम गोदारा न्याय की आस में दर-दर भटक रहा है।

कांग्रेस-भाजपा बचा रही आरोपियों को: सांसद
आरएलपी सांसद ने भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों पर इस मामले के आरोपियों को बचाने के आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि अमराराम गोदारा पर जिस तरह का जानलेवा हमला किया गया और जिस जघन्यता के साथ उसके शरीर में कीलें गाड़कर मानवता को शर्मसार किया गया उसे देखते हुए ये साफ़ है कि राजस्थान में आपराधिक तत्व बेख़ौफ़ हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

श्योक नदी में गिरा सेना का वाहन, 26 सैनिकों में से 7 की मौतआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितआजम खान को सुप्रीम कोर्ट से फिर बड़ी राहत, जौहर यूनिवर्सिटी पर नहीं चलेगा बुलडोजरMumbai Drugs Case: क्रूज ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को NCB से क्लीन चिटRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानतमनी लान्ड्रिंग मामले में फारूक अब्दुल्ला को ED ने भेजा समन, 31 मई को दिल्ली में होगी पूछताछ
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.