राजस्थान : Gehlot सरकार के खिलाफ 'हल्ला-बोल' करने उतरी BJP, फिर जो हुआ वो...

भाजपा का सरकार विरोधी 'हल्ला-बोल', विधानसभा घेराव के दौरान पुलिस-कार्यकर्ताओं के बीच झड़प

By: Nakul Devarshi

Published: 18 Sep 2021, 12:38 PM IST

जयपुर।

गहलोत सरकार की जनविरोधी नीतियों का विरोध जताने के लिए प्रदेश भाजपा के कार्यकर्ता आज फिर सडकों पर उतरे। तय कार्यक्रम के अनुसार विधानसभा का घेराव करने के लिए भाजपा कार्यकर्ता बड़ी संख्या में भाजपा मुख्यालय इकट्ठे हुए थे। इसके बाद पार्टी कार्यालय से विधानसभा तक कार्यकर्ताओं ने पैदल कूच निकाला।

 

इधर, कार्यकर्ताओं को विधानसभा तक जाने से रोकने के लिए पुलिस ने पहले ही बैरिकेडिंग लगाकर पूरे इंतज़ाम किये हुए थे। जैसे ही कार्यकर्ता 22 गोदाम स्थित सहकार सर्किल पहुंचे पुलिस ने उन्हें आगे बढ़ने से रोक दिया। इस दौरान पुलिस और कार्यकर्ता आमने-सामने हो गए। काफी देर तक चली धक्का-मुक्की के बीच एक पुलिसकर्मी की तबियत बिगड़ गई, जिसे कार्यकर्ताओं के ही सहयोग से अस्पताल पहुंचाया गया।

 

वरिष्ठ नेताओं की रही गैरमौजूदगी
भाजपा के प्रदर्शन के दौरान वरिष्ठ नेताओं की गैरमौजूदगी रही। प्रदेशाध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया के जोधपुर प्रवास पर होने के चलते वे इस विरोध-प्रदर्शन में शामिल नहीं हो सके। वहीं विधानसभा सत्र होने के कारण जयपुर शहर से भाजपा कालीचरण सराफ, अशोक लाहोटी सहित कई विधायक नहीं पहुंचे। इसके अलावा पूर्व विधायक राजपाल सिंह शेखावत और मोहन लाल गुप्ता सरीखे नेता नहीं प्रदर्शन में नज़र नहीं आये। हालांकि विधायक रामलाल शर्मा और निर्मल कुमावत विधानसभा की कार्यवाही के बीच में प्रदर्शन में शामिल होने पहुंचे। वहीं प्रदर्शन में जयपुर सांसद रामचरण बोहरा मौजूद रहे।

 

कई मुद्दों को लेकर रहा 'हल्ला-बोल'
विधानसभा घेराव का कार्यक्रम जयपुर जिला भाजपा की ओर से किया गया। इसमें प्रदेश में बढ़ते अपराध, बिजली बिलों में बढ़ोतरी सहित सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ विरोध जताया गया। घेराव कार्यक्रम में बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता जुटे। जयपुर शहर और ग्रामीण भाजपा के नेता-कार्यकर्ताओं ने इस विरोध-प्रदर्शन में हिस्सा लिया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने गहलोत सरकार विरोधी नारेबाजी की।

Nakul Devarshi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned