Rajasthan board Initiative: परीक्षा दस्तावेजों में होगा ऑनलाइन संशोधन


राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की पहल
ऐसी सुविधा देने वाला देश का पहला बोर्ड बना
अब कार्यालय चक्कर लगाने की जरूरत नहीं

By: Rakhi Hajela

Published: 11 Jun 2021, 06:18 PM IST



जयपुर, 11 जून
राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Rajasthan Board of Secondary Education) से जुड़े अभ्यार्थियों को अपने परीक्षा संबंधी डॉक्यूमेंट्स (Exam related documents) में किसी भी संशोधन के लिए अब राजस्थान बोर्ड के अजमेर ऑफिस तक जाने की जरूरत नहीं होगी। अब उनका यह काम ऑनलाइन हो जाएगा। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Rajasthan Board of Secondary Education) परीक्षा दस्तावेजों (exam documents) में ऑनलाइन संशोधन की सुुविधा उपलब्ध कराने वाला देश का पहला बोर्ड है। गौरतलब है कि बोर्ड परीक्षा में हर साल बैठने वाले लाखों अभ्यर्थियों को परिणाम घोषित होने के बाद पता चलता है कि उनके एग्जामिनेशन संबंधी डॉक्यूमेंट्स में स्वयं का नाम, पिता अथवा माता के नाम में कोई गलती रह गई और संंशोधन की आवश्यकता है तो वह बोर्ड के मुख्यालय आते हैं। वांछित दस्तावेजों के अभाव में चाहा गया संंशोधन बोर्ड स्वीकार नहीं करता। ऐसे में आवेदन को बोर्ड कार्यालय के चक्कर लगाने पड़ते थे। इन सब परेशानियों से अभ्यार्थियों को मुक्ति के लिए राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने परीक्षा दस्तावेज संंशोधन प्रक्रिया को ऑनलाइन करने का निर्णय किया है।
संशोधन के लिए मेले पर भेजने होंगे डॉक्यूमेंट्स
इस प्रक्रिया के तहत स्वयं के नाम अथवा पिता के नाम अथवा माता के नाम अथवा उपनाम में संशोधन अथवा जन्मतिथि में संंशोधन के लिए आवेदक को बोर्ड की परीक्षा शाखा की ई.मेल आई डी पर एप्लीकेशन, मार्कशीट या सर्टिफिकेट जिसमें संशोधन करवाना है, उसे शाला रिकॉर्ड अथवा स्कॉलर रजिस्टर्ड, आठवीं बोर्ड की मार्कशीट या प्रवेश आवेदन पत्र और पूर्व शाला का स्थानान्तरण पत्र स्कैन कर अपलोड करना होगा। बोर्ड कार्यालय को जैसे ही मेल मिलेगा उसे प्रारम्भिक जांच के लिए शाखा में भेजा जाएगा। यदि प्रारम्भिक जांच में यह पाया गया कि संशोधन उचित है तो 24 घंटे में प्रार्थना पत्र में दिए गए ई.मेल आईडी अथवा मोबाइल नम्बर पर निर्धारित संशोधन शुल्क ऑनलाइन पोर्टल पर जमा कराकर चालान निकालने के लिए निर्देश दिए जाएंगे।
बोर्ड ने की यह व्यवस्थाएं
यदि संशोधन स्वयं,पिता माता के नाम में है, तो इस चालान और मूल अंकतालिका प्रमाण पत्र बोर्ड कार्यालय को स्पीड पोस्ट से उप निदेशक परीक्षा माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान अजमेर को भेजना होगा।
जन्मतिथि में संशोधन का प्रकरण है तो प्रारम्भिक जांच में उचित पाए जाने पर छात्र को निर्धारित दिवस को मूल शाला रिकॉर्ड के साथ बोर्ड कार्यालय में उपस्थित होने के लिए निश्चित तिथि और समय दिया जाएगा।
जांच के बाद अभ्यार्थी को चाहा गया संंशोधित दस्तावेज 15 कार्य दिवस में उसके घर के पते पर स्पीड पोस्ट से भेज दिया जाएगा।
बोर्ड ने बनाई हेल्प डेस्क
बोर्ड ने इस कार्य के लिए एक हेल्प डेस्क भी बनाई है, जिसका नम्बर 0145.2945678 और 0145.2627376 है।
उल्लेखनीय है कि बोर्ड ने पिछले एक साल के कोविड काल में स्टूडेंट्स और टीचर्स के लिए कई व्यवस्थाओं को ऑनलाइन किया है। जिसमें ऑनलाइन प्रतिलिपि,मार्कशीट प्रमाणपत्र के आवेदन स्वीकार कना, बोर्ड संबंद्धता के लिए ऑनलाइन आवेदन, बोर्ड परीक्षा से जुड़े टीचर्स और परीक्षा केंद्रों का ऑनलाइन भुगतान करना शामिल हैं। इतना ही बोर्ड ने एक साल में परीक्षाओं में शामिल एक करोड़ से अधिक परीक्षार्थियों के परीक्षा प्रमाणपत्र डिजीलॉकर में उपलब्ध करवाए हैं। बोर्डपरीक्षकों ने परीक्षार्थियों के प्रेक्टिकल, सैद्धांतिक और संत्राक के अंक भी ऑनलाइन मंगवाए जा रहे हैं।
इनका कहना है,
हमने परीक्षा दस्तावेजों में संशोधन की प्रक्रिया को ऑनलाइन करने का निर्णय लिया है। इससे अब आवेदक को बोर्ड कार्यालय चक्कर लगाने के झंझट से छुटकारा मिलेगा और उनका काम कम समय में आसानी से हो सकेगा।
डीपी जारोली, अध्यक्ष
माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned