राजस्थान बजट 2020: जोधपुर में ‘बरसात’, टोंक में ‘बौछार’, झालावाड़ तरसा

Rajasthan Budget 2020-21 प्रदेश के दिग्गज नेताओं के कारण है इन जिलों का सियासी महत्त्व: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ( Ashok Gehlot ) के गृह जिले जोधपुर, उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ( Sachin Pilot ) के निर्वाचन जिले टोंक, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ( Vasundhara Raje ) का झालावाड़। अब बजट ( Rajasthan Budget 2020-21 ) हो और इन जिलों की चर्चा न हो, तो बात अधूर रह सकती है...

जयपुर। प्रदेश के दिग्गज नेताओं के कारण सियासी महत्त्व के 3 जिलों की हमेशा चर्चा रहती है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ( Ashok Gehlot ) के गृह जिले जोधपुर, उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ( Sachin Pilot ) के निर्वाचन जिले टोंक, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ( Vasundhara Raje ) का झालावाड़। अब बजट ( Rajasthan Budget 2020-21 ) हो और इन जिलों की चर्चा न हो, तो बात अधूर रह सकती है। गहलोत सरकार की ओर से पेश बजट को यदि मानसून की भाषा में बताएं तो जोधपुर में घोषणाओं की बरसात हुई, टोंक में बौछार रही और झालावाड़ तरसता रहा। बजट रूपी ऐसी मानसूनी मेहरबानी इस सरकार में ही नहीं, बल्कि पिछली कई सरकारों के कार्यकाल में होती रही है। हालांकि एक सच्चाई यह भी है कि बजट में जितना मिले वह उम्मीद से कम ही होता है।

तीन जिले - बजट में किसकी क्या रही स्थिति

जोधपुर - लगभग हर मद में विशेष ध्यान

चिकित्सा
- फलोदी व पीपाड़ सिटी के राजकीय अस्पतालों को जिला अस्पतालों के रूप में क्रमोन्नत किया जाएगा। राजकीय चिकित्सालय ओसियां में मदर एंड चाइल्ड केयर सेंटर की स्थापना होगी। लोहावट, बालेसर व भोपालगढ़ के राजकीय अस्पतालों में ट्रोमा सेंटर खोले जाएंगे।
- जोधपुर में कैंसर जांच के लिए पैट सीटी स्कीन मशीन उपलब्ध करवाई जाएगी।
- जोधपुर के मथुरादास माथुर अस्पताल में पीडियाट्रिक कैथ लेब की स्थापना होगी। एमडीएम अस्पताल के ओपीडी ब्लॉक के शेष फ्लोर के निर्माण के लिए 46 करोड़ रुपए की मंजूरी। अस्पताल में 1 करोड़ रुपए की लागत से 30-30 पलंग वाले 4 नए वार्ड खुलेंगे। नया न्यूरो इंटरवेंशन लैब और 10 करोड़ की लागत से चरणबद्ध ढंग से क्षेत्रीय कैंसर सेंटर का निर्माण करवाया जाएगा।
- जोधपुर में 9 करोड़ की लागत से होम्योपैथिक कॉलेज की स्थापना होगी।
- डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन आयुर्वेद विवि में नया पीजी
- महिला छात्रवास बनाया जाएगा। मौजूदा स्नातक छात्रावास का विस्तार भी होगा।

शिक्षा
- राजकीय शारीरिक शिक्षा महाविद्यालय, जोधपुर में अतिरिक्त कक्षा कक्ष, छात्रावास, बैडमिंटन कोर्ट, स्वीमिंग पुल, ऑडिटोरियम आदि सुविधाओं के लिए 5 करोड़ रुपए का प्रावधान
उच्च एवं तकनीकी शिक्षा : जोधपुर स्थित राज्य के पहले व सबसे पुराने एमबीएम इंजीनियरिंग कॉलेज को अपग्रेड कर विश्वविद्यालय स्तर की सुविधाएं प्रदान की जाएगी। इसके लिए 20 करोड़ का प्रावधान किया गया है।

कृषि
- मथानिया में स्वतंत्र कृषि मंडी
- कृषि विवि जोधपुर के अधीन नए डेयरी प्रोद्योगिकी व कृषि अभियांत्रिकी विभाग की स्थापना के लिए 5 करोड़ का प्रावधान

पशुपालन
- पशु चिकित्सालय रातानाडा के जर्जर भवन के पुनर्निमाण के लिए एक करोड़ रुपए मंजूर

उद्योग
- जोधपुर में राजस्थान अंतरराष्ट्रीय निर्यात एक्सपो आयोजन के लिए रीको 3 करोड़ रुपए खर्च करेगा

परिवहन
- पीपाड़ सिटी के परिवहन कार्यालय को जिला परिवहन कार्यलय के रूप में क्रमोन्नत किया जाएगा।

पेट्रोलियम
- जोधपुर में हाइड्रोकार्बन सेक्टर की विभिन्न स्किल्स में प्रशिक्षण के लिए डेडिकेटेड कौशल केंद्र की स्थापना

सार्वजनिक निर्माण
- क्षतिग्रस्त जोधपुर-बनाड़ व अन्य सडक़ों तथा डांगियावास, गुड़ा, कांकाणी, धुंधाड़ा व समदड़ी के नवीनीकरण व जीर्णोद्धार के लिए 59 करोड़ रुपए मंजूर।
(प्रदेश के ऐसे 19 चिह्नित मार्गों पर खर्च होने वाले 400 करोड़ रुपए में से सर्वाधिक जोधपुर को मिले हैं।)

वन एवं पर्यावरण
- जोधपुर के खेजड़ली में वृक्ष रक्षा के लिए बलिदान करने वाली अमृता देवी को समर्पित शहीद स्मारक के निर्माण के लिए 10 लाख रुपए मंजूर

नगरीय विकास
- जोधपुर के भोपालगढ़ में नगर पालिका की स्थापना
- जोधपुर में अंतरराष्ट्रीय सम्मेलनों के लिए बड़े ऑडिटोरियम की स्थापना की डीपीआर बनाने के लिए एक करोड़ रुपए
- सीवर ब्लॉकेज की समस्या के निवारण के लिए जोधपुर नगर निगम के लिए दो करोड़ की लागत से सुपर सकर मशीन खरीद को मंजूरी
- जोजरी नदी में साल भर उपचारिच पानी की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए तीन नए एसटीपी स्थापित होंगे

कला एवं संस्कृति
- 22 स्मारकों के पुनरुद्धार की योजना में जोधपुर भी शामिल
- जोधपुर के जयनारायण व्यास टाउन हॉल के जीर्णोद्धार के लिए 5 करोड़ रुपए मंजूर

गृह-न्याय प्रशासन
- आपराधिक प्रकरणों में जयपुर के बाद अब जोधपुर में भी डीएनए टेस्ट की सुविधा विधि विज्ञान प्रयोगशाला में उपलब्ध होगी।
- जोधपुर के बिलाड़ा में अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायालय की स्थापना

टोंक - शहरी सडक़ों के लिए 30 करोड़ रुपए
- आमतौर पर टोंक में सडक़ों के लिए सालाना 5 से 6 करोड़ रुपए खर्च होते हैं, लेकिन इस बार ये मेहरबानी चर्चा का विषय रही
- शहरी सडक़ों के निर्माण के लिए 30 करोड़
- नए औद्योगिक क्षेत्र की स्थापना
- 6 उपखण्डों में महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूल
- पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना के तहत बीसलपुर बांध का विकास
- शहीद स्मारक
- गांवों व ढाणियों में पेयजल
- टोडारायसिंह में नई स्वतंत्र मंडी
- 6 ग्राम पंचायत व पीपलू की पंचायत समिति का भवन निर्माण
- उपखण्ड मुख्यालय पर कनिष्ठ सहायक व सूचना सहायक का पद

झालावाड़ - चंद बूंदें नाम की
- पिड़ावा, डग और मनोहर थाना कस्बे में कृषि उपज मंडी
- खानपुर में कस्तूरबा विद्यालय
- एमपी से जोडऩे वाली सुनेल, सोयत सडक़ के लिए 10 करोड़
- ग्रामीण पेयजल योजनाओं की सूची में भी झालावाड़ शामिल

Show More
dinesh Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned