मुख्यमंत्री गहलोत ने ताम्रध्वज के पहुंचने से पहले वादों को लेकर सभी मंत्रियों-सचिवों की ली क्लास

मंत्रिमंडल पुनर्गठन की गहमा-गहमी के बीच गहलोत ने घोषणा पत्र को लेकर की समीक्षा

By: Sameer Sharma

Updated: 29 Jul 2021, 01:39 PM IST

- कांग्रेस मैनीफेस्टो कमेटी के अध्यक्ष ताम्रध्वज की शनिवार को बैठक, सीएम ने डाटा अपडेट करने के दिए निर्देश

जयपुर। मंत्रिमंडल पुनर्गठन की गहमा गहमी और कांग्रेस मैनीफेस्टो कमेटी के अध्यक्ष ताम्रध्वज साहू के पहुंचने से पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपनी सरकार के कामकाज की समीक्षा की। इस बैठक में सभी मंत्री और विभागों के प्रमुख सचिव वीसी के जरिए जुड़े। सूत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री नहीं चाहते कि सरकार के ढाई वर्ष के काम काज की गति को लेकर आलाकमान की ओर से किसी भी तरह का सवाल उठे। इधर, विधानसभा में प्रदेश प्रभारी अजय माकन जब विधायकों से वन-टू-वन बात कर रहे थे, तब मुख्यमंत्री मैनीफेस्टो कमेटी की बैठक की तैयारी में जुटे थे। गौरतलब है कि ताम्रध्वज शनिवार को राजस्थान के मैनीफेस्टो की समीक्षा करने के लिए बैठक लेंगे।

गहलोत ने सभी मंत्रियों एवं प्रमुख सचिवों को निर्देश दिए कि इस शनिवार से पहले कांग्रेस के चुनावी घोषणा पत्र के हिसाब से अब तक पूरे हुए सभी वादों और अधूरे वादों को लेकर डाटा को अपडेट कर लें। मुख्यमंत्री ने सभी विभागों के सभी मंत्रियों एवं प्रमुख सचिवों को घोषणा पत्र में अपने-अपने विभागों से संबंधित वादों की सूची बनाने को कहा। उन्होंने कहा कि सूची में वादों के आगे लिखा जाए कि कौन-कौन से पूरे हो चुके और कौन-कौन से वादे अभी अधूरे हैं। गहलोत ने कहा कि जो वादे अधूरे हैं, उनकी वर्तमान में क्या स्थिति है, ये भी जानकारी सूची में लिखी जाए। उन्होंने कहा कि जिस वादे पर काम चल रहा है, उसके आगे लिखा जाए कि कितना प्रतिशत काम हो चुका है और कितने प्रतिशत बाकी है। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि हो सके, तो अधूरे वादों के आगे लिखा आए कि सरकार इन्हें कब तक पूरा कर देगी।

मुख्यमंत्री की क्लास, 64 फीसदी वादे पूरे होने का दावा


सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री की बैठक में मंत्रियों एवं शासन सचिवों के फीडबैक के अनुसार चुनावी घोषणा पत्र के 64 प्रतिशत वादे पूरे होने का दावा किया गया। गौरतलब है कि राज्य सरकार के दो वर्ष पूरे होने के पूर्व पिछले वर्ष 2 अक्टूबर को राज्य सरकार ने घोषणा पत्र के 51 प्रतिशत काम पूरे होने का दावा किया था। सरकार ने कहा था कि कोरोना काल के बावजूद विकास की गति थमी नहीं है। अब आठ महीने बाद और कोरोना की दूसरी लहर के बावजूद 13 प्रतिशत और वादे पूरे होने का दावा किया जा रहा है।

Show More
Sameer Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned