scriptRAJASTHAN CHIEF MINISTER ASHOK GEHLOT LAUNCH LIGHT AND SOUND SHOW | Rajasthan 5 प्रमुख पर्यटक स्थलों पर लाइट एंड साउंड शो की सौगात | Patrika News

Rajasthan 5 प्रमुख पर्यटक स्थलों पर लाइट एंड साउंड शो की सौगात

Rajasthan light and sound show जयपुर के गोविंददेवजी मंदिर के पीछे जयनिवास उद्यान स्थित लाइट एंड साउंड शो सहित प्रदेश के 5 प्रमुख पर्यटक स्थलों पर लाइट एंड साउंड शो शुरू हेा गया है। Chief Minister Ashok Gehlot ने सोमवार को सीएमआर से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से इनका लोकार्पण किया।

जयपुर

Updated: December 27, 2021 10:02:03 pm

Rajasthan light and sound show जयपुर के गोविंददेवजी मंदिर के पीछे जयनिवास उद्यान स्थित लाइट एंड साउंड शो सहित प्रदेश के 5 प्रमुख पर्यटक स्थलों पर लाइट एंड साउंड शो शुरू हेा गया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को सीएमआर से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से इनका लोकार्पण किया। Chief Minister Ashok Gehlot ने जयपुर के प्रमुख धार्मिक स्थल गोविंद देव जी मंदिर परिसर स्थित जयनिवास उद्यान, मेड़ता में मीराबाई स्मारक, चित्तौड़गढ़ के विश्व विख्यात दुर्ग, धौलपुर के मचकुंड के लाइट एंड साउंड शो के अलावा जैसलमेर की ऐतिहासिक गड़सीसर झील में लेजर वाटर शो का लोकार्पण किया।
Rajasthan 5 प्रमुख पर्यटक स्थलों पर लाइट एंड साउंड शो की सौगात
Rajasthan 5 प्रमुख पर्यटक स्थलों पर लाइट एंड साउंड शो की सौगात
इस मौके पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रदेश के पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार समर्पित भाव से काम रह रही है। इसके लिए दूरगामी सोच के साथ कई महत्वपूर्ण निर्णय किए गए हैं। पर्यटन के क्षेत्र में राजस्थान को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने के लिए सरकार ने 500 करोड़ रूपए का पर्यटन विकास कोष बनाने का अहम निर्णय किया है। इस कोष से पर्यटक स्थलों पर आधारभूत सुविधाओं के विकास, उनके संरक्षण तथा राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर मजबूत ब्रांडिंग जैसे कार्य किए जाएंगे।
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि पर्यटन के क्षेत्र में राजस्थान की देश और दुनिया में विशिष्ट पहचान है। बड़ी संख्या में देशी और विदेशी पर्यटक यहां की मनभावन संस्कृति, किलों, महलों, बावडियों तथा वाइल्ड लाइफ, डेजर्ट आदि से जुड़े आकर्षक स्थलों को देखने आते हैं। रोजगार में पर्यटन उद्योग की महत्वपूर्ण भूमिका है। लाखों लोगों की आजीविका इससे जुड़ी हुई है। दुनिया के कई मुल्कों की अर्थव्यवस्था पर्यटन उद्योग पर निर्भर करती है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि धार्मिक, वाइल्ड लाइफ, ट्राईबल, डेजर्ट पर्यटन को प्रोत्साहित करने के लिए नए-नए सर्किट जोड़ने के साथ ही सभी प्रमुख धार्मिक एवं पर्यटन स्थलों पर विकास के कार्य किए जा रहे हैं। कोरोना महामारी से प्रभावित इस उद्योग को संबल देने में भी सरकार कोई कमी नहीं रख रही है। कोविड के कारण पूरी दुनिया में वेलनैस टूरिज्म एवं इससे जुड़ी गतिविधियों का महत्व बढ़ा है। प्रदेश में भी इस टूरिज्म को प्रोत्साहित करने पर काम हो रहा है।
गहलोत ने कहा कि राज्य की नई पर्यटन नीति, पेइंग गेस्ट हाउस स्कीम, कोरोना की विषम परिस्थितियों से प्रभावित पर्यटन उद्यमियों को आर्थिक संबल देने के लिए मुख्यमंत्री संबल योजना, गाइडों का मानदेय तीन गुना तक बढ़ाने जैसे सकारात्मक निर्णयों से इस सेक्टर में आत्मविश्वास लौटा है। यह खुशी की बात है कि कोरोना की दूसरी लहर के बाद प्रदेश के पर्यटक स्थानों पर सैलानियों की संख्या बढ़ी है। इसके बावजूद हमें मास्क पहनने, वैक्सीनेशन आदि सुरक्षात्मक उपायों को अपनाते हुए कोई ढिलाई नहीं बरतनी है।

कार्यक्रम में केन्द्रीय संस्कृति राज्यमंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने कहा कि स्वदेश योजनान्तर्गत जिन 5 स्थानों पर लाइट एण्ड साउण्ड शो का लोकार्पण किया गया है, उन स्थानों का इतिहास एवं पर्यटन की दृष्टि से बड़ा महत्व है। इससे देशी एवं विदेशी सैलानियों को राजस्थान के गौरवपूर्ण इतिहास एवं समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को जानने का अवसर मिलेगा।
प्रदेश के पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने कहा कि कोरोना से प्रभावित प्रदेश का पर्यटन उद्योग फिर से पटरी पर लौट रहा है। राज्य सरकार के निर्णयों एवं प्रयासों से इस उद्योग को बड़ा संबल मिला है। उन्होंने केन्द्रीय संस्कृति राज्यमंत्री अर्जुनराम मेघवाल से आग्रह किया कि वे केन्द्र सरकार के स्तर पर लंबित प्रदेश के पर्यटन विकास की दृष्टि से महत्वपूर्ण 8 मेगा प्रोजेक्ट्स को शीघ्र मंजूरी देने के लिए पहल करें।
प्रमुख सचिव पर्यटन गायत्री राठौड ने बताया कि पर्यटन मंत्रालय की स्वदेश दर्शन योजना के तहत प्रदेश में स्वीकृत 8 प्रोजेक्ट्स में से 5 लाइट एंड साउंड शो तथा लेजर वाटर शो का लोकार्पण किया गया है। बचे हुए 3 स्थानों पर भी जल्द ही ये शो शुरू होंगे। इस अवसर पर जलदाय मंत्री डॉ. महेश जोशी, पर्यटन निदेशक निशांत जैन, राजस्थान संगीत नाटक अकादमी के पूर्व अध्यक्ष रमेश बोराणा सहित पर्यटन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Azadi Ka Amrit Mahotsav में बोले पीएम मोदी- ये ज्ञान, शोध और इनोवेशन का वक्तपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलNEET UG PG Counselling 2021: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- नीट में OBC आरक्षण देने का फैसला सही, सामाजिक न्‍याय के लिए आरक्षण जरूरीटोंगा ज्वालामुखी विस्फोट का भारत पर भी पड़ सकता है प्रभाव! जानिए सबसे पहले कहां दिखा असरCorona cases in India: कोरोना ने तोड़ा 8 महीने का रिकॉर्ड; 24 घंटे में 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस, मौत का आंकड़ा 450 के पारराजस्थान में कोरोना को लेकर नई गाइडलाइन जारी,विवाह समारोह में 100 लोगों के शामिल होने की अनुमतिश्रीलंकाई नौसेना जहाज की भारतीय मछुआरों के नौका से टक्कर, सात मछुआरे बाल बाल बचेटीआई-लेडी कॉन्स्टेबल की लव स्टोरी से विभाग में हड़कंप, दो बच्चों का पिता है टीआई
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.