खस्ताहाल सडकों ने रोका सीएम वसुंधरा राजे की 'गौरव' रथ! अचानक करना पड़ गया कार्यक्रम में बदलाव

खस्ताहाल सडकों ने रोका सीएम वसुंधरा राजे की 'गौरव' रथ! अचानक करना पड़ गया कार्यक्रम में बदलाव

nakul devarshi | Publish: Sep, 16 2018 09:47:37 AM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

टोंक।
वन एवं पर्यावरण मंत्री गजेन्द्र सिंह खींवसर ने शनिवार को CM Vasundhara Raje की प्रस्तावित rajasthan gaurav yatra 2018 की तैयारियों को लेकर सर्किट हाउस में अधिकारियों की बैठक ली। इस दौरान उन्होंने कहा कि राजस्थान गौरव यात्रा के कार्यक्रम में कुछ बदलाव किया गया है। पहले गौरव यात्रा के तहत मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे 28 सितम्बर को टोंक आने वाली थी, लेकिन समय सीमा कम होने के कारण उनकी गौरव यात्रा 29 सितम्बर को अजमेर के किशनगढ़ से होती हुई टोंक के टोडारायसिंह से टोंक जिले में प्रवेश करेगी।

 

उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि हाल ही में किए गए बदलावों के तहत मुख्यमंत्री की पीपलू के झिराना में होने वाली जनसभा को निरस्त कर दिया गया है। मुख्यमंत्री रात्रि विश्राम टोंक सर्किट हाउस में करेंगी। इन सब की तैयारी को लेकर उन्होंने अधिकारियों से चर्चा की गई है।

 

इस दौरान विधायक अजीत मेहता ने कहा कि नगर परिषद की लापरवाही के चलते शहर की सडक़ें टूटी हुई है। इसके लिए कई बार नगर परिषद के अधिकारियों से कहा गया, लेकिन सुनवाई नहीं की गई। इस पर नगर परिषद के अधिशासी अभियंता दिनेश गोयल तथा विधायक के बीच कुछ बहस हो गई। इस पर मंत्री ने अधिशासी अभियंता को फटकार लगाते हुए यात्रा से पहले सभी सडक़ों की मरम्मत करने को कहा। इस दौरान प्रधान जगदीश भी मौजूद थे।


पायलट बोले- 'सिंचाई योजनाओं की अनदेखी पर कैसा गौरव?'
कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने प्रदेश की शनिवार को सीएम से सवाल किया है कि प्रदेश में जारी सिंचाई योजनाओं की अनदेखी और नए सिंचाई तंत्र को प्रगति देने के लिए कोई ठोस कार्य योजना नहीं बनने से कृषि को हो रहे नुकसान पर, क्या आप गौरव महसूस करती हैं?

 

पायलट ने कहा कि मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को नदियों को जोडऩे तथा यमुना व इंदिरा गांधी नहर का पूरा पानी दिलाने का वादा किया था, लेकिन सभी वादे खोखले साबित हुए हैं। कोटा और बूंदी जिलों के चबल कमांड क्षेत्र में 2358 किलोमीटर लबे नहरी तंत्र में 1950 किलोमीटर लबे नहरी तंत्र के जीर्णोद्धार की 1274 करोड़ की चालू योजना को भाजपा सरकार ने दिसबर 2013 में रोक दिया था और कांग्रेस के द्वारा दबाव बनाए जाने पर अपने कार्यकाल के चौथे वर्ष में काम शुरू किया जिसके कारण केवल 250 किलोमीटर नहरों का काम हो पाया है और 1274 करोड़ में से 250 करोड़ ही खर्च हुए हैं।

 

बूंदी में निकाली 'सरकार-जवाब दो' रैली
गौरव यात्रा के बूंदी पहुंचने के दो दिन पहले शनिवार को कांग्रेस ने 'सरकार-जवाब दो' रैली निकालकर प्रदर्शन किया। पूर्वमंत्री हरिमोहन शर्मा की अगुवाई में कार्यकर्ता रैली के रूप में काले झंडे लिए कलक्ट्रेट आए। कलक्ट्रेट में प्रवेश के लिए कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की भी हुई। उन्होंने यहां अतिरिक्त जिला कलक्टर को २३ मांगों का पत्र सौंपा। पत्र में लिखी सारी मांगों का मुख्यमंत्री और अन्य जनप्रतिनिधियों से गौरव यात्रा के दौरान जवाब देने की मांग रखी। उन्होंने बूंदी में 17 सितम्बर को आ रही मुख्यमंत्री से मिलने का समय भी मांगा, जवाब नहीं मिलने विरोध का रास्ता अपनाने की चेतावनी दी।

 

... इधर भी तैयारियां ज़ोरों पर
मुख्यमंत्री की गौरव यात्रा के तहत 22 सितम्बर को प्रस्तावित सभा की तैयारियों को लेकर शनिवार को पंचायत समिति सामुदायिक भवन में भाजपा जयपुर देहात अध्यक्ष डीडी कुमावत की अध्यक्षता में कार्यकर्ताओं की बैठक हुई। डांग विकास बोर्ड अध्यक्ष जवाहर सिंह, भाजपा प्रदेश मंत्री संजय शर्मा, चूरू जिला प्रमुख हरलाल सिंह जाट व विधानसभा प्रभारी बनवारी यादव ने कार्यकर्ताओं को यात्रा व सभा की जानकारी देते हुए तैयारियों की जानकारी ली।

 

 

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned