जनता के जीवन को संकट में डाल रही है राजस्थान सरकार-शर्मा

भाजपा के मुख्य प्रवक्ता व विधायक रामलाल शर्मा ने कोरोना के नियंत्रण को लेकर राजस्थान सरकार पर आरोप लगाए हैं। शर्मा ने कहा कि राजस्थान सरकार कोरोना को नियंत्रण करने के लिए कठोर कदम नहीं उठाकर जनता के जीवन को संकट में डाल रही है।

By: Umesh Sharma

Published: 20 Sep 2020, 04:31 PM IST

जयपुर।

भाजपा के मुख्य प्रवक्ता व विधायक रामलाल शर्मा ने कोरोना के नियंत्रण को लेकर राजस्थान सरकार पर आरोप लगाए हैं। शर्मा ने कहा कि राजस्थान सरकार कोरोना को नियंत्रण करने के लिए कठोर कदम नहीं उठाकर जनता के जीवन को संकट में डाल रही है। सरकार कोरोना की स्थिति बिगड़ने के बाद कठोर कदम उठाने के लिए अग्रसर हो रही है और कोरोना संक्रमण फैलने के बाद 11 जिलों में धारा 144 लगाई है। ये बहुत पहले ही कर देना चाहिए था।

शर्मा ने कहा कि भाजपा पहले से कहती आ रही है कि कोरोना की इस लड़ाई में सरकार को जो भी कदम उठाने हैं, उठाने चाहिए। लेकिन सरकार बेपरवाह होकर आपसी लड़ाई लड़ने व्यस्त है और जनता के जीवन को संकट में डालने का काम कर रही है। शर्मा ने कहा कि आज राजस्थान प्रदेश में जिस तरीके के हालात बन चुके हैं, निजी चिकित्सालय के लोग भी राजस्थान सरकार की एडवाइजरी मानने को तैयार नहीं है और निजी अस्पतालों में कोरोना के नाम पर लूट की जा रही है। निजी अस्पताल 90 हजार प्रतिदिन के हिसाब से कोरोना मरीजों से वसूल रहे हैं।

शर्मा ने कहा कि सरकार को कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए निशुल्क इलाज की व्यवस्था करनी चाहिए। आम आदमी को आधुनिक चिकित्सा सुविधाओं के रूप में आईसीयू व वेंटीलेटर से महरूम होना पड़ रहा है। शर्मा ने मांग की है कि सरकार को इस मामले में जो भी आवश्यक लगता है, वो कदम उठाए। भाजपा उसके साथ है। यह बात हम विधानसभा के पटल पर भी कह चुके हैं। लेकिन सरकार लापरवाही के रूप में व मदमस्त हाथी के रूप में कार्य कर रही है। जिसको प्रतिपक्ष द्वारा कहे गए शब्दों पर भी विश्वास नहीं है और उनको भी नजरअंदाज करने का काम सरकार कर रही है।

Corona virus COVID-19
Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned