प्रशासन शहरों के संग अभियान के लिए तीन समितियां गठित

राज्य सरकार ने आमजन को लाभ देने के लिए प्रशासन शहरों के संग अभियान की तैयारियां शुरू कर दी है। यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल की अध्यक्षता में शनिवार को उनके आवास पर अभियान को लेकर बैठक हुई। जिसमें धारीवाल ने तीन समितियों का गठन किया है।

By: Umesh Sharma

Published: 09 Jan 2021, 08:37 PM IST

जयपुर

राज्य सरकार ने आमजन को लाभ देने के लिए प्रशासन शहरों के संग अभियान की तैयारियां शुरू कर दी है। यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल की अध्यक्षता में शनिवार को उनके आवास पर अभियान को लेकर बैठक हुई। जिसमें धारीवाल ने तीन समितियों का गठन किया है। यह समितियां अभियान की रूप रेखा तैयार करने, विभिन्न बायलॉज और नियमों को अध्ययन करने एवं उनमें आवश्यक संशोधन को लेकर पूर्ववर्ती अभियानों में चिन्हित समस्याओं के अतिरिक्त अन्य समस्याओं पर अध्ययन कर पांच तक अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी।

उच्च स्तरीय समिति में रिटायर्ड आईएएस जी.एस. संधु, प्रमुख शासन सचिव नगरीय विकास एवं आवासन भास्कर ए. सावंत, शासन सचिव स्वायत्त शासन विभाग भवानी सिंह देथा, निदेशक एवं विशिष्ट सचिव दीपक नन्दी, निदेशक राजस्थान राज्य कृषि विपणन बोर्ड ताराचन्द मीणा और सेवानिवृत मुख्य नगर नियोजक एच.एस. संचेती को शामिल किया गया है। दूसरी समिति में स्वायत्त शासन विभाग संबंधित प्रकरणों के लिए स्वायत्त शासन विभाग के निदेशक एवं विशिष्ठ सचिव दीपक नन्दी की अध्यक्षता में गठित की गई। तृतीय समिति प्रस्तावित प्रशासन शहरों के संग अभियान के मध्य नजर बायलॉज एवं नियमों के संशोधन के लिए मुख्य नगर नियोजक आर.के. विजयवर्गीय की अध्यक्षता में गठित की गई। इसमें संयुक्त शासन सचिव प्रथम नगरीय विकास विभाग मनीष गोयल, अतिरिक्त निदेशक संजीव पाण्डेय, सुनील राय और सलाहकार महावीर स्वामी को सम्मिलित किया गया है। बैठक में प्रमुख शासन सचिव यूडीएच भास्कर ए. सावंत, शासन सचिवए स्वायत्त शासन विभाग भवानी सिंह देथा, आयुक्त जेडीए गौरव गोयल, निदेशक एवं विशिष्ठ सचिव स्वायत्त शासन विभाग दीपक नन्दी, सचिव जेडीए हृदेश कुमार शर्मा सहित अनेक अधिकारी मौजूद थे।

अभियान को लेकर अधिकारियों कार्यशाला भी होगी

बैठक में धारीवाल ने निर्देश दिए कि प्रस्तावित प्रशासन शहरों के संग अभियान की जानकारी और संबंधित समस्याओं की जानकारी के लिए शीघ्र ही नगरीय निकायों के अधिकारियों की कार्यशाला का आयोजन किया जाए। इसमें पूर्व में आयोजित प्रशासन शहरों के संग में आने वाली एवं अन्य चिन्हित समस्याओं, नियमों, बायलॉज के संबंध में विस्तार से बताया जाए।

ये भी दिए निर्देश

धारीवाल ने अभियान के दौरान सर्वे, मानचित्र व अन्य कार्यों के लिए कंसलटेंसी संस्थाओं की नियुक्ति प्रक्रिया शुरू करने के भी निर्देश दिए। उन्होनें कहा कि नियमों एवं बायलॉज का सरलीकरण किया जाए, ताकि अधिक से अधिक जनता की लम्बित समस्याओं का त्वरित गति से निदान हो सके।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned