प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी की पहली बैठक आज, निकाय चुनाव पर होगा मंथन

- दोपहर तीन बजे पीसीसी मुख्यालय में होगी बैठक , प्रदेश प्रभारी अजय माकन और सीएम गहलोत भी होगे बैठक में शामिल, 15 जनवरी होने वाले विरोध प्रदर्शन पर भी होगी बैठक में चर्चा

By: firoz shaifi

Updated: 10 Jan 2021, 10:09 AM IST

जयपुर। प्रदेश कांग्रेस की नवनियुक्त कार्यकारिणी की पहली बैठक आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में बुलाई गई है। दोपहर 3 बजे होने वाली बैठक में प्रदेश प्रभारी अजय माकन, पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पीसीसी पदाधिकारियों की बैठक लेंगे।

जयपुर संभाग के फीडबैक कार्यक्रम के बाद ये पहला मौका होगा जब प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में चहल-पहल देखने को मिलेगी। दोपहर तीन बजे होने वाली बैठक में नवनियुक्त कार्यकारणी के साथ आला नेता 90 निकायों में होने जा रहे चुनाव की रणनीति पर मंथन पर करेंगे। इसके साथ ही संगठन के आगामी कामकाज की रणनीति भी बैठक में तय की जाएगी। बताया जाता है कि बैठक में नव नियुक्त पदाधिकारियों से निकाय चुनाव को लेकर सुझाव मांगे जाएंगे।

15 जनवरी को होने वाले विरोध प्रदर्शन पर भी होगी चर्चा
विश्वस्त सूत्रों की माने तो पेट्रोल-डीजल की दरों में लगातार हो रही वृद्धि और केंद्र के तीन कृषि कानूनों के विरोध में 15 जनवरी को प्रस्तावित प्रदेश कांग्रेस के विरोध प्रदर्शनों को लेकर भी बैठक में रणनीति तय की जाएगी। पेट्रोल-डीजल की दरों और कृषि कानूनों के खिलाफ धरना प्रदर्शन कहां होना है, ये भी बैठक में तय किया जाएगा। बता दें कि पेट्रोल-डीजल की दरों और कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री केसी वेणुगोपाल ने सभी प्रदेशों के अध्यक्षों को एक सर्कुलर जारी किया है।

बैठक के बाद जिलों में जाएंगे पदाधिकारी
पार्टी नेताओं का कहना है कि प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी की पहली बैठक के बाद पदाधिकारी अपने-अपने प्रभार वाले जिलों में जाकर संगठन को मजबूत करने के साथ-साथ संभावित जिलाध्यक्षों के नामों को लेकर रायशुमारी भी करेंगे। वहीं 90 निकायों में पदाधिकारियों को चुनाव पर्यवेक्षक भी लगाया जाएगा। पदाधिकारी चुनाव पर्यवेक्षक के तौर पर संभावित दावेदारों के बारे में फीडबैक लेंगे। इससे पहले शनिवार को प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने पदाधिकारियों को कार्य विभाजन किया, उन्होंने प्रदेश कांग्रेस के 7 उपाध्यक्ष को संभाग प्रभारी लगा लगाया, साथ ही महामंत्रियों और सचिवों को जिलों का प्रभार दिया गया।

पायलट नहीं होंगे बैठक में शामिल
वहीं दूसरी ओर प्रदेश के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट प्रदेश कांग्रेस की आज होने वाली बैठक में शामिल नहीं होंगे, दरअसल सचिन पायलट आज और कल टोंक जिले के दौरे पर हैं। वे दो दिन टोंक जिले के विभिन्न गांवों का दौर कर लोगों को केंद्र के कृषि कानूनों की खामियां बताएंगे। प्रदेश के 20 जिलों के 90 निकायों में होने जा रहे हैं चुनाव पर रणनीति तैयार की जाएगी साथ ही उन्हें चुनावी कामकाज का बंटवारा भी किया जाएगा।

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned