अब गहलोत सरकार का स्लोगन- ‘कोरोना से बचना है तो खुद के स्वास्थ्य का खुद रखो ख्याल’

Rajasthan Corona Awareness Campaign आज से , मुख्यमंत्री गहलोत करेंगे वर्चुअल लॉन्चिंग, 30 जून तक चलेगा अभियान, वीडियो कॉन्फ्रेंस से जुड़ेंगी 11,500 ग्राम पंचायतें, मृत्यु दर नगण्य करना और रिकवरी दर बढ़ाना लक्ष्य

By: nakul

Updated: 22 Jun 2020, 09:38 AM IST

जयपुर।

प्रदेश में कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूकता के लिए विशेष अभियान ( Rajasthan Corona Awareness Campaign ) की शुरूआत आज होने जा रही है। अभियान का शुभारम्भ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ( Ashok Gehlot ) सुबह 11 बजे मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से करेंगे। ‘‘खुद के स्वास्थ्य का खुद ख्याल रखना ही कोरोना से बचने का मुख्य उपाय है‘‘, थीम के साथ संचालित इस अभियान का लक्ष्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण से रिकवरी की दर अधिक तेजी से बढ़ाना और मृत्यु दर निरंतर कम होते हुए नगण्य करना है।

‘सोशल डिस्टेंसिंग‘ को ध्यान में रखते हुए इस अभियान की वर्चुअल लॉन्चिंग ( Virtual Launching ) हो रही है। प्रदेश के हरेक गांव-ढाणी और मोहल्ले तक आमजन को जागरूक करने के उद्देश्य से शुरू किए जा रहे इस 10 दिवसीय अभियान की लॉन्चिंग के दौरान आम लोग प्रदेशभर की करीब 11 हजार 500 लोकेशन से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मुख्यमंत्री का संदेश सुन सकेंगे। वहीँ जिला प्रभारी मंत्री, प्रभारी सचिव, जिला कलेक्टर और अन्य जिला स्तरीय अधिकारी जिलों में इस वर्चुअल लॉन्चिंग कार्यक्रम में शामिल होंगे।

इस कार्यक्रम में कोरोना महामारी के संक्रमण से बचाव के लिए प्रदेश स्तर पर गठित कोर ग्रुप और क्वारेंटीन समितियों के सदस्य, पुलिस-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, ऊर्जा, जलदाय, कृषि के अलावा पशुपालन विभाग के अधिकारी-कर्मचारी, उप खण्ड अधिकारी, बीडीओ, सरपंच, पटवारी, ग्राम सेवक, ग्राम पंचायत स्तरीय कोर कमेटी के सदस्य, मीडिया के प्रतिनिधि भी वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जुड़ेंगे।

राजस्थान देश का पहला राज्य है, जिसने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए आमजन को जागरूक करने के उद्देश्य से इतना व्यापक प्रचार-प्रसार अभियान किया जा रहा है। जिसमें हर व्यक्ति को मास्क लगाने, दो गज दूरी रखने, बार-बार हाथ धोने, सार्वजनिक स्थान पर नहीं थूकने, कोरोना के लक्षण नजर आने पर तुरंत नजदीकी अस्पताल में जाकर जांच कराने एवं परामर्श लेने जैसी सावधानियां बरतने के लिए जागरूक किया जाएगा।

मुख्यमंत्री गहलोत ने जनप्रतिनिधियों, अधिकारी-कर्मचारियों, भामाशाहों, स्वयं सहायता समूहों, सामाजिक संगठनों सहित हर आमजन से इस अभियान में सक्रिय भागीदारी निभाने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि राज्य सरकार की ओर से उठाए जा रहे कदमों और आमजन से मिले सहयोग के कारण ही आज राजस्थान में इस बीमारी से रिकवरी की दर देश में सबसे ज्यादा 77 प्रतिशत से अधिक है। प्रदेश में कोरोना से मृत्यु दर भी अन्य राज्यों की तुलना में काफी कम करीब 2.32 प्रतिशत है।

Corona virus coronavirus

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned