कोविड बेकाबू, इसलिए सरकार पहले ही जुटा ले संसाधन-राठौड़

उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर वर्तमान कोविड परिस्थितियों से लडऩे के लिए पहले ही पूरी तैयारी करने की मांग की है। साथ ही राठौड़ ने मुख्यमंत्री के प्रयासों को लेकर उन्हें धन्यवाद भी दिया है।

By: Umesh Sharma

Published: 18 Apr 2021, 08:40 PM IST

जयपुर।

उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर वर्तमान कोविड परिस्थितियों से लडऩे के लिए पहले ही पूरी तैयारी करने की मांग की है। साथ ही राठौड़ ने मुख्यमंत्री के प्रयासों को लेकर उन्हें धन्यवाद भी दिया है।

राठौड़ ने पत्र में लिखा है कि कोरोना के दूसरे चरण में एक्टिव मरीजों की संख्या 60 हजार पहुंच गई है। आने वाले दिनों में यह संख्या एक लाख के आसपास होगी। मगर हमारे पास केवल 22 हजार बैड ही उपलब्ध हैं। अगर 25 प्रतिशत बैड भी जरूरी हो तो बैड की कमी आएगी, इसलिए सरकार पहले ही होटल, धर्मशाला व अन्य जगहों पर बैड की व्यवस्था करे। इसी तरह वैंटिलेटर की संख्या भी 2800 है, जिसे बढ़ाकर 5 हजार किए जाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के केवल 4 जिलों में 6 चिकित्सा संस्थानों के पास लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट ही उपलब्ध हैं। इसलिए ऑक्सीजन सिलेंडरों की संख्या को बढ़ाया जाए। निजी अस्पतालों में रेमडीसीवर, टोसलीजूमाब व अन्य आवश्यक औषधियों की उपलब्धता को पूरा किया जाए।

निजी चिकित्सालयों पर लगाम कसने की जरूरत

राठौड़ ने कहा कि निजी चिकित्सालयों ने इस वैश्विक महामारी को अपनी व्यापारिक गतिविधियों का केंद्र मान लिया है। रोगियों से मनमाने पैसे वसूले जा रहे हैं। इसलिए निजी चिकित्सालयों पर सख्ती की जरूरत है। साथ ही अंतरराज्यीय संक्रमित रोगियों के आवागमन को भी निर्धारित करने की जरूरत है, क्योंकि आने वाले दिनों में चिकित्सकीय संसाधनों की कमी से इनकार नहीं किया जा सकता है।

COVID-19
Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned