राजस्थान: Corona से लड़ने का टीका लगवाना हुआ और आसान, ज़रूर पढ़िए ये काम की खबर

Corona Vaccination In Rajasthan : निजी अस्पतालों में कोविड-19 टीकाकरण की 250 रुपए प्रति डोज दर रहेगी, कोविड वेक्सीनेशन का तीसरा चरण एक मार्च से- 60 वर्ष से अधिक आयु वाले और 45 से अधिक आयु के गंभीर बीमारियों से ग्रस्त व्यक्ति भी होंगे शामिल

 

By: nakul

Updated: 28 Feb 2021, 02:32 PM IST

जयपुर।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने निजी अस्पतालों के लिए कोविड-19 टीकाकरण की प्रति डोज की दर 250 रुपए निर्धारित की है, जो टीका लगवाने वाले व्यक्ति द्वारा सम्बंधित अस्पताल को चुकानी होगी। चिकित्सा विभाग के शासन सचिव सिद्धार्थ महाजन ने बताया कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से प्राप्त निर्देशों के अनुसार कीमत का निर्धारण किया गया है।

 

उन्होंने बताया कि निजी अस्पतालों में कोविड-19 टीकाकरण की प्रति डोज 250 रुपए रखी गई है, जिसमें 150 रुपए वैक्सीन कीमत और 100 रुपए निजी अस्पताल का सर्विस शुल्क शामिल है। उन्होंने बताया कि निजी अस्पतालों को कोविड वैक्सीन सरकार द्वारा उपलब्ध करवायी जाएगी और अन्य सभी टीकाकरण सम्बन्धी व्यवस्थाएं निजी अस्पताल की रहेगी।

 

गौरतलब है कि कोविड-19 वैक्सीनेशन में 2 डोज प्रत्येक व्यक्ति को लगना जरूरी है। प्रदेश के चयनित राजकीय स्वास्थ्य केंद्रों, सीजीएचएस व आयुष्मान भारत महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना से सम्बद्ध चिकित्सालयों में कोविड-19 के टीके निःशुल्क लगाए जाएंगे।

 

कोविड वेक्सीनेशन का तीसरा चरण एक मार्च से

कोविड वेक्सीनेशन का तीसरा चरण एक मार्च से शुरू हो रहा है। वेक्सीनेशन के इस तीसरे चरण में 60 साल और अधिक आयु के बुजुर्गों के साथ-साथ 45 से 59 वर्ष के गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोगों को भी शामिल किया गया है। सरकारी अस्पतालों के साथ-साथ निजी अस्पतालों को भी टीके लगाने के लिए अधिकृत किया जाएगा। अधिकारियों को निर्देश दिये गए हैं कि वे वेक्सीनेशन सेंटर्स पर सभी व्यवस्थाओं की सुचारू मॉनिटरिंग करें और साथ ही जिन लोगों को प्रथम डोज लग गई है उन्हें दूसरी डोज नियत समय पर लगना सुनिश्चित करें।

 

दरअसल, पिछले दो फेज में हैल्थ केयर वर्कर्स तथा फ्रंट लाइन वर्कर्स के वेक्सीनेशन पर फोकस किया गया था, जिसके तहत अब तक लगभग 8 लाख लोगों का टीकाकरण किया गया है। जबकि तीसरे चरण में जहां 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को टीका लगाया जाएगा वहीं 45 साल से 59 वर्ष तक के गंभीर बीमारी ग्रस्त व्यक्तियों को भी शामिल किया जा रहा है। ऎसी 20 बीमारियों को चिह्वित भी किया गया है। उन्होंने बताया कि एक जनवरी 2022 को निर्धारित आयु पूर्ण करने वाले व्यक्ति तीसरे चरण के टीकाकरण के लिए पात्र होंगे।

 

अब तक सभी टीके सरकार की ओर से निःशुल्क लगाए गए हैं। तीसरे चरण में प्राइवेट अस्पतालों को भी टीके लगाने के लिए अधिकृत किया जाएगा, जहां सशुल्क टीकाकरण की सुविधा उपलब्ध होगी। सरकारी चिकित्सालयों में पहले की तरह ही निःशुल्क टीके लगाए जाएंगे।

 

ऑनलाइन करना होगा आवेदन

पहले दो चरणों में विभाग द्वारा हेल्थ केयर वर्कर्स तथा फ्रंट लाइन वर्कर्स की लिस्ट लेकर पोर्टल पर डालना और उन्हें सूचित करने का काम किया गया था। अब तीसरे चरण में वेक्सीनेशन करवाने के लिए व्यक्ति को स्वयं पोर्टल “कोविन 2” पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आवेदनकर्ता वेक्सीनेशन का स्थान व समय भी उपलब्ध सूची के अनुसार स्वयं कर सकेगा। एक मार्च से यह सुविधा मिल सकेगी।

 

जिन व्यक्तियों को पहली डोज लग चुकी है उन्हें दूसरी डोज सरकारी चिकित्सालय में निःशुल्क ही लगाई जाएगी। जो प्राइवेट अस्पताल आयुष्मान भारत तथा सीजीएचएस से जुड़े हैं तथा निर्धारित मापदण्ड पूरा करेंगे उन्हें ही टीकाकरण के लिए अधिकृत किया जाएगा।

 

ये भी रखना होगा ध्यान

मुख्य सचिव के अनुसार कोविड-19 टीकाकरण के लिए केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बनाये गये कोविन सॉफ्टवेयर में प्रत्येक लाभार्थी का रजिस्टे्रशन आवश्यक है। नवीन गाइड लाइन के अनुसार रजिस्टे्रशन के लिए टीकाकरण साइट पर लाभार्थी का रजिस्टे्रशन उपलब्ध होगा जिसके लिए लाभार्थी को फोटो युक्त परिचय पत्र एवं आधार कार्ड लाना आवश्यक है। रजिस्टे्रशन की प्रक्रिया के तहत लाभार्थी स्वयं के स्तर पर ऑनलाइन रजिस्टे्रशन कर सकते हैं।

 

मुख्य सचिव ने जिला कलेक्टर्स को निर्देशित करते हुए कहा कि कलेक्टर जिले में सरकार का चेहरा होता है। इसलिए आप राज्य सरकार की प्राथमिकताओं को समयबद्ध कार्यक्रम बना कर क्रियान्वित करें। मुख्यमंत्री की बजट घोषणाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए इसे पूरा करें।

Corona virus

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned