गज़ब... Corona Vaccine में चहेतों को फायदा पहुंचाने के लिए अधिकारियों ने निकाला ये 'रास्ता'!

कोरोना वैक्सीन में चहेतों को फायदा पहुंचाने के लिए निकाला अधिकारियों ने 'रास्ता'

By: nakul

Published: 04 May 2021, 10:33 AM IST

जयपुर।

राजस्थान में एक मई से तीसरे चरण का कोविड वैक्सीनेशन का काम शुरू हो चुका है। इसके तहत 18 से 44 आयुवर्ग के लोग टीकाकरण करा सकते है। ऐसे में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और उसके बाद स्लॉट अलॉट होने पर टीका लगाया जा सकता है। सरकार इस कदम को पारदर्शिता बताकर अपनी पीठ थपथपा रही है तो दूसरी ओर जयपुर के सीएमएचओ दफ्तर में बैठे अधिकारियों ने एक रास्ता निकाल लिया है। जिससे वे अपने चहेतों का टीकाकरण करवा रहे हैं। जबकि, आम जनता दिनभर वेबसाइट पर शेड्यूल खुलने का इंतजार करती रहती है।

 

नहीं बताया गया समय

बता दें कि राजस्थान में 28 अप्रेल से कोविड वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया था। ऐसे में 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों ने रजिस्ट्रेशन तो करा लिया। लेकिन, वैक्सीन लगाने के लिए शेड्यूल एक दिन पहले खोला जा रहा है। ऐसे में इसका कोई समय चिकित्सा विभाग की ओर से नहीं बताया गया कि वेबसाइट पर सेशन या स्लॉट कब ओपन होगा। इस स्थिति में लोग दिनभर वेबसाइट पर टकटकी लगाए रहते है।

 

...और फिर हो जाता है खेल

वहीं, सूत्रों की मानें तो रात करीब साढ़े आठ बजे बाद विभाग की ओर से सेशन अचानक खोल दिया जाता है। ऐसे में लोगों का आरोप है कि चिकित्सा विभाग के अधिकारी अपने लोगों को पहले ही सेशन खुलने का टाइम बता रहे हैं। जिसके कारण केवल वे ही लोग रजिस्ट्रेशन करवा पाते हैं जो उस समय वेबसाइट पर ऑनलाइन रहते है। साथ ही चिकित्सा विभाग की ओर से सभी सेंटर्स को पोर्टल पर नहीं दिखाया जाता है। ऐसे में आमजन का आरोप है कि वे सेंटर्स पूरी तरह 'अपनों' के लिए सुरक्षित कर दिए जाते है। इस प्रक्रिया में जिम्मेदार अधिकारी बड़ी संख्या में कोविड वैक्सीन लगवाने की चाह रखने वाले चहेतों को लाभ पहुंचा रहे है। जबकि आम जनता को स्लॉट ही नहीं मिल रहा है।

 

यूं करते हैं कारनामा

सोमवार रात करीब पौने नौ बजे स्लॉट खुलने की जानकारी मिली। इस पर हमारे संवाददाता ने पोर्टल पर सभी सेंटर देखे तो करीब 5 मिनट में सभी बुक हो गए। जबकि जयपुर का आदर्श नगर और तोपखाना सेंटर उस समय नहीं खोला गया। इसके बाद रात करीब 9 बजकर 55 मिनट पर दोनों ही सेंटर बुक दिखा दिए गए। जबकि हरमाड़ा स्थित यूपीएचसी सेंटर दिनभर पोर्टल पर दिखाई दिया। इसके बाद रात को इसे पोर्टल से हटा दिया गया। मंगलवार सुबह जब पिनकोड 302013 डालकर यूपीएचसी हरमाड़ा सर्च किया गया तो वह पोर्टल पर आ गया और पूरी तरह से बुक दिखाया गया।

 

जिम्मेदार नहीं उठा रहे फोन

इधर, जब इस मामले में बात करने के लिए जयपुर सीएमएचओ को फोन किया गया तो उन्होंने फोन नहीं उठाया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned