राज्य सरकार से वार्ता बेनतीजा, नाराज़ जाट नेता बोले, ‘अब आंदोलन से होगी आर-पार की लड़ाई’

भरतपुर-धौलपुर जाट आरक्षण मामले पर जाट समाज की राज्य सरकार के साथ वार्ता बेनतीजा रही।

By: kamlesh

Published: 24 Dec 2020, 08:01 PM IST

जयपुर। भरतपुर-धौलपुर जाट आरक्षण मामले पर जाट समाज की राज्य सरकार के साथ वार्ता बेनतीजा रही। सरकार के आमंत्रण पर गुरुवार को सचिवालय में हुई बैठक में जाट समाज प्रतिनिधिमंडल की तीन मांगों पर चर्चा हुई। इनमें से दो मांगे मानने के लिए तो सरकार राज़ी हो गई, पर राज्य की ओर से केंद्र सरकार को भेजी जाने वाली सिफारिशी चिट्ठी की मांग पर गतिरोध बना रहा। प्रमुख मांग पर वार्ता बेनतीजा रहने के बाद जाट समाज प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि अब जाट समाज सरकार से आर-पार की लड़ाई लड़कर अपनी मांगों को मनवाएगा।

भरतपुर-धौलपुर जाट आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक व जाट नेता नेम सिंह फ़ौजदार ने बताया कि सरकार ने जाट समाज के धैर्य की परिक्षा कई बार ली है, लेकिन अब उन्हें एक बार फिर आंदोलन करने को मजबूर किया गया है। उन्हीने चेतावनी देते हुए ये भी कहा कि सरकार जाट समाज को हल्के में ना ले।

गौरतलब है कि घोषित कार्यक्रम के तहत भरतपुर-धौलपुर जाट आरक्षण संघर्ष समिति के बैनर तले शुक्रवार को महाराजा सूरजमल के बलिदान दिवस से आंदोलन शुरू होने जा रहा है। भरतपुर के जयपुर-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग पर खेड़ली मोड़ पर जाट समाज महापड़ाव डालेगा।

समिति से जुड़े नेताओं ने हालांकि आंदोलन के शुरूआती चरण में शांतिपूर्ण तरीके से अपनी बात रखने का आश्वासन दिया है, लेकिन यदि मांगे तब भी नहीं मानी जाती तब रेल और सड़क मार्ग बाधित करने पर भी विचार किया जा सकता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned