कोरोना से लड़ने को तैयार राजस्थान, तत्काल बढ़ाई जा रही है एक हजार से अधिक जांच सुविधाएं

प्रदेश में अभी 2500 जांचों तक की सुविधा उपलब्ध, एक हजार की सुविधा बढ़ाने की तैयारी, निजी अस्पताल में 1000 जांचों की अनुमति के लिए आईसीएमआर से अनुमति का आग्रह

 

By: pushpendra shekhawat

Published: 28 Mar 2020, 05:07 PM IST

विकास जैन / जयपुर। प्रदेश में इस समय कोरोना वायरस की दो से ढाई हजार जांचों की सुविधा उपलब्ध है। राज्य सरकार की तैयारी के अनुसार इनकी संख्या एक हजार से अधिक तक बढ़ाने की तैयारी शुरू हो गई है। वर्तमान में एसएमएस अस्पताल में 300 से 400 कोरोना जांच हो रही है और 1300 से 1500 जांच प्रतिदिन की जा सकती है। यहां 3 माइक्रोबायोलाॅजी की टीमें लगी हुई है। इसके अलावा महात्मा गांधी हाॅस्पिटल में भी 500 जांचें की जा सकती हैं और इसे 1000 तक बढ़ाया जा सकता है।

चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा के अनुसार महात्मा गांधी लैब में जांच के लिए आईसीएमआर से शीघ्र अनुमति के लिए राज्य सरकार ने केंद्र सरकार को आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि राज्य भर में 2 से 2.5 हजार जांच की सुविधा अभी उपलब्ध है। इसको भी मुख्यंमत्री ने आने वाले समय में बढ़ाने के निर्देश दिए हैं।

जल्द ही आएगी रैपिड टेस्टिंग किट

चिकित्सा मंत्री के अनुसार प्रदेश के ज्यादा से ज्यादा संदिग्धों की कम समय में जांच करने के लिए रैपिड टेस्टिंग किट को काम में लिया जाएगा। इस किट को अमरीका के फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) ने स्वीकृत किया है। इसमें अल्प समय में ही जांच रिपोर्ट प्राप्त हो जाती है। इस किट का अनुमोदन आईसीएमआर से होना शेष है। उन्होंने कहा कि इससे हमारी जांच सुविधा मजबूत होगी। मुख्यमंत्री ने रैपिड टेस्टिंग किट अविलम्ब खरीद के भी निर्देश दिए हैं।

Corona virus
Show More
pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned