आवासन मंडल ने सवा साल में कमाए 1952 करोड़

राजस्थान आवासन मंडल (Rajasthan Housing Board) मुख्यालय में मंगलवार को मंडल के संचालक मंडल की 245वीं बैठक (Rajasthan Housing Board Board Meeting) आयोजित की गई। इसमें 16 प्रस्तावों पर विचार-विमर्श किया गया। बोर्ड ने वित्तीय वर्ष 2019-20 के अंकेक्षित वार्षिक लेखों का अनुमोदन किया। मंडल इस साल विभिन्न निर्माण कार्यो पर 476 करोड़ रूपए खर्च करेगा।

By: Girraj Sharma

Published: 16 Feb 2021, 10:49 PM IST

आवासन मंडल ने सवा साल में कमाए 1952 करोड़
— राजस्थान आवासन मण्डल के संचालक मण्डल की 245वीं बैठक
— बोर्ड ने किया वित्तीय वर्ष 2019-20 के अंकेक्षित वार्षिक लेखों का अनुमोदन

जयपुर। राजस्थान आवासन मंडल (Rajasthan Housing Board) मुख्यालय में मंगलवार को मंडल के संचालक मंडल की 245वीं बैठक (Rajasthan Housing Board Board Meeting) आयोजित की गई। इसमें 16 प्रस्तावों पर विचार-विमर्श किया गया। बोर्ड ने वित्तीय वर्ष 2019-20 के अंकेक्षित वार्षिक लेखों का अनुमोदन किया। मंडल इस साल विभिन्न निर्माण कार्यो पर 476 करोड़ रूपए खर्च करेगा।

आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि संचालक मंडल की बैठक में बोर्ड के वित्तीय वर्ष 2019-20 के अंकेक्षित, प्रमाणित वार्षिक अंतिम लेखों को अनुमोदित किया गया। बोर्ड बैठक में इस बात पर संतोष व्यक्त किया गया कि मण्डल की ओर से कोरोना काल के बावजूद 8000 से अधिक अधिशेष आवासो के बेच कर 1300 करोड़ रुपए, 275 प्रीमियम प्रोपर्टी से 334 करोड रूपये तथा 'अपनी दुकान अपना व्यवसाय' योजना में 794 दुकानें बेच कर 122 करोड रूपए का राजस्व प्राप्त हुआ, इस प्रकार मात्र सवा साल के अल्प समय में अभी तक 1952 करोड रूपये का रिकार्ड कमाई की, जो इस वित्तीय वर्ष के अन्त तक 2100 करोड रूपये होने का अनुमान है। उन्होंने बताया कि वर्ष 2020-21 में 4478 आवास पहले से निर्माणाधीन थे, जबकि इस वर्ष 6059 आवास और स्वीकृत किये गये है। इनमें इडब्ल्यूएस 3047, एलआईजी 4078 और एमआईजी के 2401 आवास है। एचआईजी के 516 और एसएफएस के 495 आवास हैं। इस वर्ष विभिन्न निर्माण कार्यो पर 476 करोड़ रूपये व्यय होना अनुमानित है।
भिवाड़ी में बनेंगे 808 फ्लैट्स
आयुक्त ने बताया कि भिवाड़ी की अरावली विहार योजना में मुख्यमंत्री जन आवास योजना के निर्मित किए जाने वाले फ्लैट्स के लिए पंजीकरण योजना प्रारंभ की जाएगी। यहां ग्रुप हाउसिंग के लिए आरक्षित 6 भूखंडों पर मुख्यमंत्री जन आवास योजना के तहत कुल 808 फ्लैट्स का नियोजन किया गया है।
बाड़मेर में 50 प्रतिशत छूट पर बेचेंगे आवास
आयुक्त ने बताया कि बोर्ड में निर्णय लिया गया कि बाड़मेर के सिवाना की भीमगौड़ा आवासीय योजना के 223 अधिशेष आवासों को 50 प्रतिशत की छूट पर बेचा जाएगा। यह आवास ई- ऑक्शन के माध्यम से बेचे जाएंगे।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned