बंदी को खाना देने के नाम पर हो गया झगड़ा, दो मुकदमें दर्ज

बंदी को खाना देने के नाम पर हो गया झगड़ा, दो मुकदमें दर्ज


जयपुर
भरतपुर की डीग जेल में जेल प्रशासन और बंदी से मिलने आए उसके परिजनों के बीच झगड़ा होने पर दोनो पक्षों में विवाद हो गया। विवाद बढ़ता हुआ थाने तक जा पहुंचा। बाद में थाना पुलिस ने जेल प्रशासन और बंदी के परिजनों की ओर से एक दूसरे के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। मिली जानकारी के अनुसार जेल में बंद अरुण कुमार से मिलने आए उसके भाई धमेन्द्र ने जेल प्रशासन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया कि वे जेल में बंद अपने भाई को खाना देने के आए थे लेकिन जेल प्रशासन ने खाना अंदर नहीं ले जाने दिया और रुपयों की मांग की। रुपए नहीं दिए तो मारपीट की। वहीं जेलर जगदीश कुमार का कहना है कि अरुण से मिलने आए धमेन्द्र को खाना इसलिए नहीं ले जाने दिया गया क्योंकि कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते जेल में किसी की भी एंट्री के आदेश नहीं हैं। इस पर धमेन्द्र ने धक्का मुक्की की और जेल के बाहर ही आत्महत्या करने की धमकी दे डाली।

हैंडीक्राफ्ट फैक्ट्री में भीषण आग
जोधपुर में आज सवेरे एक हैंडीक्राफ्ट फैक्ट्री में आग लगने से अफरा तफरी मच गई। आग के बारे में जैसे ही पुलिस को सूचना दी गई पुलिस ने दमकल विभाग को इस बारे में जानकारी दी और कुछ देर के बाद दोनो मौके पर पहुंची। दमकल की तीन गाड़ियों ने कई फेरे लिए तब जाकर करीब दो घंटे में आग पर काबू पाया जा सका। पुलिस ने बताया कि बोरानाड़ा क्षेत्र में स्थित हैंडीक्राफ्ट फैक्ट्री में आज सवेरे आग लगने के बाद कई घंटे में उसे काबू किया जा सका। गनीमत रही कि जब फैक्ट्री में आग लगी तो उस समय वहां पर कोई मौजूद नहीं था। आग लगने से बड़ी मात्रा में तैयार और कच्चा माल जलकर नष्ट हो गया। प्राथमिक जांच के आधार पर आग लगने का कारण पुलिस शॉर्ट सर्किट बता रही है।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned