... तो क्या Rajatshan में फिर होगा सम्पूर्ण Lock Down? जानें इस वक्त की ताज़ा अपडेट

- प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामले, भाजपा खेमे से उठी सम्पूर्ण लॉकडाउन की आवाज़, उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने की पैरवी, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से लॉकडाउन की मांग, कोविड-19 जांच व्यवस्था में सुधार का भी आग्रह

 

By: nakul

Updated: 15 Sep 2020, 12:53 PM IST

जयपुर।

राजस्थान में रिकॉर्ड स्तर पर बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामले और इनसे होने वाली मौतें जहां सरकार के लिए चिंता का विषय बनी हुई हैं, वहीं विपक्ष लगातार सरकार की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए व्यवस्थाओं में सुधार की मांग कर रहा है। इस बीच अब कोरोना के बढ़ते पैमाने पर नियंत्रण पाने के लिए भाजपा नेता प्रदेश भर में एक बार फिर लॉकडाउन लगाने की पैरवी कर रहे हैं।

प्रदेश में लगे सम्पूर्ण लॉकडाउन
विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से तीन बिदुओं पर ध्यान आकर्षित करते हुए व्यवस्था में सुधार करने का आग्रह किया है। राठौड़ ने प्रदेश में 15 दिन के लिए पूर्ण रूप से लॉकडाउन घोषित करने और लॉकडाउन पूरा होने के बाद भी अगले चरण में शनिवार, रविवार को लॉकडाउन जारी रखने का आग्रह किया है। वहीं आमजन को कोरोना की जाँच के लिए डॉक्टर की पर्ची की अनिवार्यता ख़त्म कर सभी को जाँच करवाने की सुविधा प्रदान करने की मांग की है।

डॉक्टरी पर्ची की अनिवार्यता हो ख़त्म
राठौड़ ने कहा है कि प्रदेश में कोविड-19 जांच करवाने के लिए डॉक्टर की पर्ची की अनिवार्यता एक बड़ी बाधा बनी हुई है। इस कारण ज़्यादातर लोग अपनी कोविड सम्बन्धी जांच नहीं करवाते। उन्होंने आशंका जताई कि इस अनिवार्यता और व्यवस्था का खामियाजा कोरोना मामलों में बढ़ोतरी के तौर पर सामने आएगा।

गौरतलब है कि उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ फिलहाल खुद कोरोना संक्रमित हैं और आइसोलेशन में रहते हुए स्वास्थ्य उपचार ले रहे हैं।

राजस्थान में स्थिति चिंताजनक, अस्पतालों पर बढ़ा भार

राजस्थान में कोरोना संक्रमण का खतरा कम होने की बजाय बढ़ता जा रहा है। दिन—ब—दिन एक्टिव केस बढ़ते जा रहे हैं और अस्पतालों पर कोरोना मरीजों का भार बढ़ता जा रहा है। इससे अन्य बीमारियों के मरीजों को मिलने वाली सुविधाओं पर भी असर पड़ रहा है। वहीं कोरोना संक्रमण को लेकर हालात चिंताजनक होते जा रहे हैं। आज फिर एक्टिव केस बढ़कर 17468 पर पहुंच गए हैं। वहीं रिकवरी रेट अब भी कम है। आज सिर्फ 50 लोग रिकवर हुए हैं और उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया। वहीं राज्य में 7 लोगों की और मौत दर्ज की गई है।

अब तक 1257 मरीजों की मौत कोरोना के चलते हो चुकी है। नए मरीजों की बात करें तो चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक 799 नए कोरोना संक्रमितों की पुष्टि की गई है। राजस्थान में कुल संक्रमितों की संख्या 104937 पर पहुंच गई है।

राजधानी जयपुर में सबसे ज्यादा मरीज
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर जारी सुबह के आंकड़ों में दर्ज 799 नए मरीजों में सबसे ज्यादा राजधानी जयपुर से मिले हैं। जयपुर से 141 नए मरीजों की पुष्टि की गई है। वहीं जोधपुर से आज 93 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। वहीं अजमेर से 49, अलवर से 53, बांसवाड़ा से 16, बारां से 15, भरतपुर से 23, भीलवाड़ा से 38, बीकानेर से 24, बूंदी से 11, चित्तौड़गढ़ से 10, चूरू से 14, दौसा से 6, धौलपुर से 11, डूंगरपुर से 14, श्रीगंगानगर से 16, हनुमानगढ़ से 32, जैसलमेर से 19, जालौर से 11, झालावाड़ से 15, झुंझुनूं से 15, कोटा से 69, नागौर से 26, पाली से 21, प्रतापगढ़ से 2, राजसमंद से 6, सवाईमाधोपुर से 4, सिरोही से 16, टोंक से 10 और उदयपुर से 19 नए कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हुई है।

यहां हुई मरीजों की मौत
आज हुई 7 मरीजों में बीकानेर से 2 की मौत दर्ज की गई है। वहीं जयपुर, पाली, चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा और अजमेर से 1—1 मरीज की मौत हुई है। वहीं रिकवरी की बात करें तो आज 50 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया है। अब तक कुल 86212 लोग इस महामारी से रिकवर हो चुके हैं। जबकि 84688 मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं।

इतनी हुई जांच
महामारी का खतरा बढ़ते देख जांच में तेजी लाए जाने का प्रयास किया गया है। अब तक 26 लाख 72 हजार 224 लोगों की कोरोना की जांच हो चुकी है। इनमें से 25 लाख 66 हजार 267 लोग कोरोना नेगेटिव पाए गए। वहीं 1020 जांच की रिपोट आना अभी बाकी है।

Corona virus
Show More
nakul Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned