राजस्थान: नहीं थम रहे मंत्रियों की कार के हादसे, ‘रफ़्तार’ बन रही वजह? जानें वे मंत्री जो हुए 'शिकार'

पिछले तीन से चार साल की बात की जाए तो आंजना से पहले पूर्व कैबिनेट मंत्री विश्वेन्द्र सिंह, पूर्व खाद्य एंव आपूर्ती मंत्री बाबूलाल वर्मा, पूर्व मंत्री प्रताप सिंह सिंघवी, पूर्व चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री बंशीधर बाजिया के नाम कार हादसों की फहरिस्त में शामिल हैं। वहीं केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी की कार भी इसी वर्ष प्रदेश में ही दुर्घटना का शिकार हो चुकी है। मंत्रियों के अलावा कई नेता और भी हैं जो सड़क हादसों में घायल हुए हैं।

By: nakul

Published: 05 Sep 2020, 12:53 PM IST

जयपुर।

प्रदेश के सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना की कार शुक्रवार को जयपुर से निम्बाहेड़ा जाते समय दुर्घनाग्रस्त हो गई। हालांकि गनीमत ये रही कि हादसे में मंत्री और कार में सवार अन्य सभी सुरक्षित बच गए। बताया गया कि सड़क पर गोवंश आने की वजह से कार ड्राईवर संतुलन खो बैठा और हादसा हो गया।

राज्य सरकार में मंत्रियों की कार का दुर्घटनाग्रस्त होना कोई नई बात नहीं है। आंजना से पहले भी कई मंत्रियों की कार हादसे का शिकार हुई हैं। हालांकि अभी तक शुक्र इस बात का है कि सभी हादसों में मंत्री सुरक्षित रहे हैं।

जानकारी में सामने आया है कि मंत्रियों की कार के अब तक हुए हादसे ज़्यादातर बार किसी मवेशी के बीच रास्ते में आने के कारण हुए हैं। वहीं कुछ हादसे अन्य वाहन को बचाने या किसी अन्य वाहन से भिडंत की वजह से हुए हैं। वहीं इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता कि रफ़्तार के मामले में मंत्रियों की कार अन्य कारों की तुलना में अधिक ज़्यादा गति में रहती हैं। हालांकि इस बात पर अभी तक पुलिस की तरफ से कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आया है।

मंत्री रहते हुए ये हुए हादसे का शिकार
पिछले तीन से चार साल की बात की जाए तो आंजना से पहले पूर्व कैबिनेट मंत्री विश्वेन्द्र सिंह, पूर्व खाद्य एंव आपूर्ती मंत्री बाबूलाल वर्मा, पूर्व मंत्री प्रताप सिंह सिंघवी, पूर्व चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री बंशीधर बाजिया के नाम कार हादसों की फहरिस्त में शामिल हैं। वहीं केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी की कार भी इसी वर्ष प्रदेश में ही दुर्घटना का शिकार हो चुकी है। मंत्रियों के अलावा कई नेता और भी हैं जो सड़क हादसों में घायल हुए हैं।

वर्ष 2019- विश्वेन्द्र सिंह- ट्रॉले ने मारी मंत्री कार को टक्कर

वर्ष 2019- विश्वेन्द्र सिंह, ट्रॉले ने मारी मंत्री कार को टक्कर

पूर्व कबिनेट मंत्री विश्वेन्द्र सिंह भी कार दुर्घटना में बाल-बाल बच चुके हैं। हादसा पिछले साल अक्टूबर 2019 का है। दौसा के पास हाईवे पर एक ट्रोले ने मंत्री की कार को टक्कर मार दी थी। हालांकि इस दौरान मंत्री सिंह और गाड़ी में सवार किसी को भी कोई नुकसान नहीं हुआ। हादसे में मंत्री की गाड़ी का पीछे का हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया और एक टायर भी फट गया। हादसे के समय मंत्री, चालक और दो गनमैन गाड़ी में सवार थे।

वर्ष 2017- बाबूलाल वर्मा- मंत्री बचे, पर निजी सहायक की गई जान

वर्ष 2017- बाबूलाल वर्मा- मंत्री बचे, पर निजी सहायक की गई जान

पूर्व खाद्य एवं नागरिक आपूर्ती मंत्री बाबूलाल वर्मा भी अगस्त 2017 में सड़क हादसे का शिकार हुए। वे कोटा जिले में अपनी कार से जा रहे थे तभी सड़क पर अचानक से मवेशी आ गया, जिसे बचाने के फेर में हादसा हुआ। हादसा इतना भीषण रहा कि इसमें मंत्री के निजी सहायक राजेन्द्र सिंह की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं बाबूलाल वर्मा और उनके चालक को गंभीर चोटें आईं। हाइवे होने के चलते कार ज़्यादा रफ़्तार में बताई गई।

वर्ष 2017- बंशीधर बाजिया- दूसरे वाहन से टकराकर हुई बेकाबू

वर्ष 2017- बंशीधर बाजिया- दूसरे वाहन से टकराकर हुई बेकाबू

पूर्व चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री बंशीधर बाजिया की कार अक्टूबर 2017 में दुर्घनाग्रस्त हुई। उनकी कार एक अन्य वाहन से टकराकर बेकाबू हो गई थी। इसमें भी मंत्री और उनका स्टाफ बाल-बाल बच गया। हादसा बाजिया के नागौर से जयपुर लौटने के दौरान हुई। हादसे में सरकारी गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई।

वर्ष 2019- प्रताप सिंह सिंघवी- गलत दिशा से बीच में आया बाइक सवार

वर्ष 2019- प्रताप सिंह सिंघवी- गलत दिशा से बीच में आया बाइक सवार

पूर्व यूडीएच मंत्री प्रताप सिंह सिंघवी की कार भी टोंक जिले के छाण के महुआ गांव में सड़क हादसे का शिकार हुई। हादसा सिंघवी के जयपुर से कोटा जाते वक्त हुआ। हादसे में सिंघवी तो बाल-बाल बच गए लेकिन उनके सर, नाक, कमर में चोटें आईं। सामने आया कि उनकी के सामने गतल दिशा में बाइक सवार आ गया जिसे बचाने के चक्कर में कार अनियंत्रित होकर 25-30 फुट नीचे गड्ढे में गिर गई।

कैलाश चौधर, केंद्रीय राज्य मंत्री - 10 मिनिट पहले उतरे मंत्री, और हो गया हादसा

कैलाश चौधर, केंद्रीय राज्य मंत्री - 10 मिनिट पहले उतरे मंत्री, और हो गया हादसा

केन्द्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी की कार इसी वर्ष जून माह में बाड़मेर के समदड़ी कस्बे में दुर्घटनाग्रस्त हुई। कार सवार चार जने चोटिल हुए। कार विद्युत पोल से टकराई थी जिसके बाद उसमें करंट भी दौड़ पडा था। ख़ास बात ये थी कि मंत्री महज़ दस मिनट पहले ही कार से उतरे थे। वे स्थानीय विधायक की कार से एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए रवाना हुए थे। हादसे का कारण सड़क क्षतिग्रस्त होने से कार का असंतुतिलत होना बताया गया।

Show More
nakul Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned