scriptRajasthan New CM: BJP Observer Deployed, Now Waiting For Legislature Party Meeting | Rajasthan New CM: बीजेपी पर्यवेक्षक तैनात, अब विधायक दल की बैठक का इंतजार | Patrika News

Rajasthan New CM: बीजेपी पर्यवेक्षक तैनात, अब विधायक दल की बैठक का इंतजार

locationजयपुरPublished: Dec 09, 2023 08:32:03 am

Submitted by:

Nupur Sharma

Rajasthan New CM: राजस्थान विधानसभा चुनाव परिणाम घोषित होने के पांच दिन बाद आखिरकार भाजपा ने विधायक दल की बैठक बुलाने और मुख्यमंत्री चयन करने के लिए केन्द्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त कर दिए हैं।

election_.jpg

Rajasthan New CM: राजस्थान विधानसभा चुनाव परिणाम घोषित होने के पांच दिन बाद आखिरकार भाजपा ने विधायक दल की बैठक बुलाने और मुख्यमंत्री चयन करने के लिए केन्द्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त कर दिए हैं। भाजपा ने राजस्थान में केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राज्यसभा सांसद सरोज पांडेय और राष्ट्रीय महामंत्री विनोद तावड़े को पर्यवेक्षक नियुक्त किया है। अब भाजपा विधायकों काे विधायक दल की बैठक का इंतजार है। राजनाथ सिंह का रविवार को जयपुर आने का कार्यक्रम बन रहा है।

राजस्थान में संभावित गुटबाजी को देखते हुए पार्टी ने सबसे वरिष्ठ मंत्री राजनाथ सिंह को राजस्थान का जिम्मा सौंपा है। घोषणा के तुरन्त बाद राजनाथ सिंह ने दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा से मुलाकात की। इसके बाद प्रदेश अध्यक्ष सी पी जोशी भी राष्ट्रीय अध्यक्ष से मिले। शुक्रवार देर शाम जोशी दिल्ली से जयपुर के लिए रवाना हो गए। उधर, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे शुक्रवार रात तक दिल्ली में ही डटी हुई थीं। चर्चा थी कि उनकी केन्द्रीय गृह मंत्री से बैठक हो सकती है, लेकिन देर रात तक यह बैठक नहीं हो सकी।

यह भी पढ़ें

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड: शूटरों की मिली आखिरी लोकेशन, तलाश में जुटी दिल्ली क्राइम ब्रांच और पंजाब की एंटी गैंगस्टर टास्क

न हो गतिरोध....इसलिए चुना गया राजनाथ को ?
पार्टी में यों तो पर्यवेक्षक नियुक्त करना सामान्य प्रक्रिया है, लेकिन राजनाथ को राजस्थान देने के अपने मायने हैं। राजस्थान में पार्टी के लिए मुख्यमंत्री चयन प्रक्रिया सबसे टेढ़ी खीर साबित हो रही है। राजनाथ सिंह को राजनीति का लम्बा अनुभव है और दो बार पार्टी के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। ऐसा माना जा रहा है कि इतने वरिष्ठ नेता को इसलिए कमान दी गई है, जिससे यहां किसी तरह का गतिरोध होगा तो वे उसे संभालने में कामयाब रहेंगे। विनोद तावड़े महाराष्ट्र से हैं और पिछले कुछ समय से पार्टी की बैठकों के चलते राजस्थान आते रहे हैं। सरोज पांडेय महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष और पार्टी की महासचिव भी रह चुकी हैं। पांडेय मूल रूप से छत्तीसगढ़ की रहने वाली हैं।

विधायक दल की बैठक में होगी मुख्यमंत्री की घोषणा
सूत्रों के अनुसार किसी तरह का कोई गतिरोध नहीं रहा तो राजनाथ सिंह विधायक दल की बैठक में विधायकों से रायशुमारी करेंगे। विधायकों की राय से आलाकमान को अवगत करवाएंगे और फिर मुख्यमंत्री के चेहरे की घोषणा कर देंगे। विधायकों की बैठक रविवार दोपहर बाद या फिर सोमवार सुबह हो सकती है।

ट्रेंडिंग वीडियो