दिल्ली और जयपुर से चुराई 100 कारें, फिर खरीदा जयपुर में घर, बोलेरो गाड़ी और पत्नी के लिए गहने

एक बदमाश जयपुर से ही नहीं दिल्ली से भी लक्जरी गाडियां चुराता रहा है। उसने कुछ ही दिनों में ऐसा साम्राज्य खड़ा कर लिया कि घर, गाड़ी और गहने खरीद लिए। पकड़ में आया तो पुलिस भी हैरान रह गई कि आखिर अकेला इतनी वारदातों को अंजाम कैसे दे सकता है।

By: Dinesh Gautam

Published: 06 Jun 2018, 11:57 PM IST

जयपुर
एक शातिर चोर महज 16 महीने में 100 गाड़ियां चुरा लेता है और भारी भरकम पुलिस सिस्टम की आंखों से बच निकलता है। जी हां दौसा का एक बदमाश जयपुर से ही नहीं दिल्ली से भी लक्जरी गाडियां चुराता रहा है। उसने कुछ ही दिनों में ऐसा साम्राज्य खड़ा कर लिया कि घर, गाड़ी और गहने खरीद लिए। पकड़ में आया तो पुलिस भी हैरान रह गई कि आखिर अकेला इतनी वारदातों को अंजाम कैसे दे सकता है।

शिप्रापथ थाना पुलिस ने एक शातिर वाहन चोर को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। आरोपी ने दिल्ली और जयपुर के विभिन्न थाना इलाकों से 100 से अधिक चार पहिया वाहन चुराए है। पुलिस ने अब तक दो दिल्ली और एक जयपुर से चुराई कार बरामद करने में सफलता भी हासिल कर ली। पूछताछ में और कई मामलों का खुलासा होने की संभावना जताई जा रही है।

एडिशनल डीसीपी मनोज चौधरी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी रमेश उर्फ राहुल मीणा (38) दौसा के बिनौरी का रहने वाला है और कानोता में आशियाना कॉलोनी में रहता है। आरोपी बाइक चुराने के लिए चुराई हुई मोटरसाइकिल पर बैठकर मानसरोवर में घूम रहा था। सूचना मिलने पर पुलिस ने उसको घेरा और रोककर पूछताछ की। जिस मोटरसाइकिल पर वह मिला है, उसे शिप्रापथ थाना इलाके से चुराना कबूल किया है।

बैग में मिले वाहन चोरी के औजार
आरोपी रमेश के पास मिले बैग में गाडि़यों के लॉक तोडऩे के 2 प्लान, 23 मेगनेट चिप, दो चाबियां मेगनेट चिप से चिपकी हुई, दो महिन्द्रा कंपनी के लोगो वाले की-रिमोट और सात मोबाइल फोन बरामद हुए हैं।

हर मॉडल और कंपनी कार चुराई
आरोपी से पूछताछ में उसने बीते 16 माह में दिल्ली से करीब 60 से अधिक कारें चुराना कबूल किया है। वहीं, जयपुर में भी कई थाना इलाकों से उसने 40 से अधिक कारें चुराना कबूल किया है। चुराई गई कारों में वरना, होंडा सिटी, सेंट्रो, बोलेरो, सफारी, थार जीप और ईको शामिल हैं।

बेचने का इलाका अलग-अलग
आरोपी ने पूछताछ में बताया कि दिल्ली से चुराई गई अधिकांश गाडि़यों को यूपी के इटावा में जसवंत नगर निवासी सुबोध यादव को और डीजल वाली कुछ गाडि़यां और जयपुर से चुराई गई गाडि़यां दौसा के झालरा की ढ़ाणी निवासी कमलेश माली के जरिए पाली, जालोर, जोधपुर, अजमेर और हरियाणा के गुडगांव जाकर बेचता था।

वाहनों को बेचकर खरीदा मकान
आरोपी ने चुराए हुए वाहनों को बेचकर जयपुर की आशियाना कॉलोनी में भूखंड खरीदकर मकान का निर्माण कराया। किस्तों पर बोलेरो और सोने के गहने भी तैयार कराए हैं।

Dinesh Gautam
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned