पपला कांड के बाद अब इन बदमाशों के लिए राजस्थान पुलिस की प्लानिंग तैयार... ऐसे करेंगे काबू

अब अपराधियो के लिए अपराध करने के बाद एक जिले से दूसरे जिले में छिप जाना अब आसान नहीं होगा।

By: JAYANT SHARMA

Published: 22 Feb 2021, 12:45 PM IST

जयपुर
पपला कांड से सीख लेते हुए अब राजस्थान पुलिस बदमाशों के खिलाफ प्लानिंग कर और ज्यादा सख्ती की तैयारी कर रही है। बदमाशों के पीछे पहले तो जिलोें और प्रदेश की पुलिस टीमें ही हुआ करती थीं लेकिन पहली बार जिलों में काम करने वाली स्पेशल टीमों को भी इस तरह की प्लानिंग में शामिल किया गया है ताकि अपराध पर अंकुश लगाया जा सके। टाॅप बदमाशों की सर्च को पूरे साल चलाया जाना है।

कोरोना ने रोक दी थी रफ्तार, फिर से पहले से ज्यादा प्लानिंग से शुरु
दरअसल पुलिस मुख्यालय की ओर से वर्ष 2019 में टॉप 10 और टॉप 25 स्तर के बदमाशों को पकड़ने के लिए विशेष अभियान चलाया गया। लेकिन साल 2020 में कोरोना की वजह से इस अभियान में कमी देखने को मिली। इसके बाद पुलिस मुख्यालय में क्राइम मिटिंग में इस अभियान को फिर से जोर.शोर से चलाने के निर्देश दिये गये। पुलिस मुख्यालय की ओर से अब रेंज स्तर पर और जिला स्तर पर आदेश जारी कर ऐसे अपराधियों पर नकेल कसने के निर्देश जारी किये गये हैं। प्रत्येक जिला एसपी के सुपरविजन में डीएसटी टीम को भी बदमाशों की धरपकड़ करने के लिए निर्देशित किया गया है। एडीजी क्राइम रवि प्रकाश मेहरडा ने बताया कि प्रदेश में बदमाशों की धरपकड़ के लिए यह विशेष अभियान चलाया जा रहा है। जिसमें थानों से लेकर प्रदेश स्तर तक के अपराधियों को गिरफ्तार करने के लिए अलग अलग टीमे काम कर रही है।

थानों की पुलिस को सबसे ज्यादा जिम्मेदारी
जिलों के साथ ही पुलिस थानों में भी इस योजना पर काम शुरू हो गया है। सभी पुलिस थानों में भी 10 टॉप अपराधियो की सूची तैयार की गई है। इस सूची में भी ऐसे अपराधियों को ही शामिल किया गया है जो आदतन हैं और इनामी भी हैं। इस सूची को भी जिलों के सभी थाने में शेयर किया गया है। अब अपराधियो के लिए अपराध करने के बाद एक जिले से दूसरे जिले में छिप जाना अब आसान नहीं होगा।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned