स्कूटर चलाते हैं तो पहले ये खबर पढ़ लें... कहीं अगले टारगेट आप तो नहीं

वहीं नारहरगढ़ रोड निवासी मदन लाल सैनी का मोबाइल फोन भी पुरोहित जी के कटले से भीड़भाड़ के बीच चोरी हो गया। कटले से बाहर आकर जब तेज तलाशी तो मोबाइल फोन गायब था।

By: JAYANT SHARMA

Published: 05 Mar 2021, 12:48 PM IST

जयपुर
मोबाइल फोन, पर्स और चेन स्नेचिंग करने वाले स्नेचर्स की गैंग शहर में सक्रिय है। हर दिन करीब आधा दर्जन केस स्नेचिंग के सामने आ रहे हैं। ताजा मामले मंे एक स्नेचिंग के दौरान एक युवती की जान जाते जााते बची। युवती ने फिर भी हिम्मत जुटाइ और स्नेचर्स के पीछे लग गई। लेकिन स्नेचर्स फरार हो गए। बाद में पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने बताया कि मानसरोवन निवासी सपना सिंह वैशाली नगर से होते हुए मानसरोवर जा रही थी।

स्कूटी से जाने के दौरान सपना सिंह ने एक बैग अपने कंधे पर टांग रखा था। उसमें पर्स भी था और साथ ही अन्य दस्तावेज भी थे। इसी दौरान मानसरोवर से गुजरते समय एक बाइक पर आए दो स्नेचर्स ने बैग छीन लिया। सपना का संतुलन बिगड़ा और वह गिरते गिरते बची। लेकिन फिर भी हिम्मत जुटाकर स्कूटी से बाइक सवारों का पीछा किया। हांलाकि वे गलियों में ओझल हो गए। पुलिस ने बताया कि सपना के पर्स में कैश, दो मोबाइल फोन, सोने की एक चेन और एज्यूकेशन संबधी दस्तावेज थे।

आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों से उनकी पडताल की जा रही है। उधर वैशाली नगर निवासी राजेन्द्र सिंह के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ। राजेन्द्र खिरणी फाटक के नजदीक से गुजर रहे थे इसी दौरान किसी ने उनकी जेब से मोबाइल फोन निकाल लिया। कुछ समय बाद इसका पता चला लेकिन जब तक चोर फरार हो चुका था। वहीं नारहरगढ़ रोड निवासी मदन लाल सैनी का मोबाइल फोन भी पुरोहित जी के कटले से भीड़भाड़ के बीच चोरी हो गया। कटले से बाहर आकर जब तेज तलाशी तो मोबाइल फोन गायब था।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned