इतनी भी बुरी नहीं पुलिस.. जिसे सड़क हादसा समझा जा रहा था... उसका तीन महीने बाद किया बड़ा खुलासा

पुलिस ने दो बाल अपचारियों को डिटेन किया है और दो अन्य युवकों को गैर इरादतन हत्या के मामले में गिरफ्तार किया है।

By: JAYANT SHARMA

Published: 17 Mar 2021, 02:00 PM IST

जयपुर
राजस्थान की विधानसभा में इन दिनों पुलिस और कानून ही गूंज रहा है। पुलिस की कार्यशैली पर लगातार आरोपों के वार पर वार विपक्ष कर रहा है। रेप, काम में लापरवाही और अन्य मामलों के चलते पुलिस की छवि खराब होती जा रही है। लेकिन इस बीच एक ऐसा केसा सामने आया है जिसमें पुलिस ने पूरी इमानदारी से काम किया तो एक सड़क हादसा गैर इरादतन हत्या की साजिश में बदल गया।

पूरा घटनाक्रम करीब तीन महीने पहले बांसवाडा जिले का है। सदर थाना पुलिस ने बताया कि क्षेत्र के चिडियावास में करीब तीन महीने पहले एक कार बेकाबू होकर नदी में जा गिरी थी। इस कार में दो इंजीनियर सवार थे और दोनो की ही मौत हो गई थी। प्राथमिक जांच में जो यह पूरा मामला सड़क हादसा लग रहा था। दोनो युवक दरवाजा नहीं खोल सके थे इस कारण दोनो की मौत हो गई थी। 16 दिसम्बर को हुए इस हादसे के बाद जब पुलिस ने मामले की जांच शुरु की तो पाया कि जहां से कार गुजर रही थी वहां पर कुछ पत्थर भी थे।

साथ ही कार निशान भी थे। उसके बाद कई संदिग्धों से पूछताछ करने के बाद पता चला कि कुछ बदमाशों ने कार चालकों को लूटने के लिए कार रोकने की कोशिश की थी। लेकिन कार चालक ने कार नहीं रोकी तो कार पर उन्होनें हमला किया उस पर पथराव किए और इस कारण कार नदी में गिर गई। पुलिस ने दो बाल अपचारियों को डिटेन किया है और दो अन्य युवकों को गैर इरादतन हत्या के मामले में गिरफ्तार किया है।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned