जोधपुर के बाद अब जयपुर से बड़ी खबर, अब जयपुर से इतने बंदी बाइक से हो गए फरार

दूसरे जिले के पुलिसकर्मी उनका पीछा भी नहीं कर सके। बाद में स्थानीय पुलिस की मदद ली और तलाश शुरु की।

By: JAYANT SHARMA

Published: 10 Apr 2021, 01:14 PM IST

जयपुर
जोधपुर के फलोदी जेल से फरार हुए 16 बंदियों का अभी सुराग नहीं लगा लेकिन इस बीच जयपुर से भी एक बंदी फरार हो गया। पुलिस कस्टडी में होने के बाद भी उसके साथी उसे छुडाकर ले गए। दूसरे जिले के पुलिसकर्मी उनका पीछा भी नहीं कर सके। बाद में स्थानीय पुलिस की मदद ली और तलाश शुरु की। लेकिन बंदी नहीं मिला स्थानीय थाने मंे मुकदमा दर्ज कराया गया। अब मानसरोवर पुलिस बंदी की तलाश कर रही है।

एनडीपीएस का आरोपी थी मोहन लाल
मानसरोवर पुलिस ने बताया कि मोहन लाल को हनुमानगढ़ की संगरिया थाना पुलिस ने नशा रखने और बेचने के आरोप मंे गिरफ्तार किया था। मोहनलाल जयपुर के बगरु थाना क्षेत्र का रहने वाला था। उसे रिमांड पर लेने के बाद हनुमानगढ पुलिस जयपुर लाई थी और जयपुर से नशे का और माल बरामद करना था। संगरिया थाने से एक एएसआई विजय सिंह और हैड कांस्टेबल राजाराम जयपुर आए थे। बगरु में उसके मकान में सर्च करने के बाद वे बगरु से मानसरोवर मैट्रो स्टेशन के नजदीक आए और यहां से सिंधी कैंप जाने के लिए बस का इंतजार करने लगे।

फिल्मी अंदाज में भागा बंदी, पुलिस दौड़ लगाती रही गई
मानसरोवर में मैट्रो स्टेशन के नजदीक ही जब दोनो पुलिसकर्मी बंदी को लेकर बस का इंतजार कर रहे थे तो इस दौरान एक बाइक वहां आकर रुकी। बाइक सवार ने मोहनलाल को देखा और उसके बाद मोहनलान ने दोनो पुलिसकर्मियों को धक्का मारा और बाइक पर बैठकर फरार हो गया। पुलिसवालों ने पीछा किया, दौड़ लगाई लेकिन बात नहीं बनी। बाद में मानसरोवर पुलिस को सूचना दी गई। मामले की जांच कर रहे एएसआई विरेन्द्र सिंह ने बताया कि सीसीटीवी कैमरों और अन्य माध्यमों से जांच की जा रही है। आरोपी को पकडने के लिए उसके मकान और अन्य जगहों पर दबिश दी गई है।

जोधपुर से भागे 16 बंदी अभी तक नहीं मिले
उधर जोधपुर के फलोदी से भागे सोलह बंदी अभी तक नहीं मिले। इनमें अधिकतर हत्या और एनडीपीएस के आरोपी हैं। उनकी तलाश में पुलिस और जेल प्रशासन की कई टीमें लगी हुई हैं। लेकिन तीन दिन का समय बीत जाने के बाद भी अभी तक कोई सुराग नहीं लग सका है। हांलाकि इस बार जेल प्रशासन ने पहली बार बंदियों की सम्पत्ति को जब्त करने की भी धमकी दी है। लेकिन यह धमकी भी अभी तक काम नहीं कर रही है।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned