पुलिस हिरासत में किरोड़ी लाल मीणा, मनाही के बावजूद आमागढ़ किले पर फहराया समाज का झंडा

किरोड़ीलाल ने फेसबुक लाइव किया तो उसके करीब तीस मिनट के बाद जयपुर कमिश्नरेट के अफसर एवं कई थानों के थानाधिकारी अपने-अपने सरकारी वाहनों से पहाड़ी पर पहुंचे और किरोड़ीलाल को गिरफ्तार कर लिया। बाद में उनको विद्याधर नगर थाने ले जाया गया।

By: JAYANT SHARMA

Updated: 01 Aug 2021, 11:55 AM IST

जयपुर। राज्यसभा सांसद किरोड़ीलाल मीणा और उनकी टीम ने कमिश्नरेट जयपुर की पांच दिन की तैयारियों की धूल उड़ा दी। पांच दिन से पुलिस दावा कर रही थी कि आमागढ़ पर उपर से लेकर नीचे तक तीन स्तर की सुरक्षा है लेकिन इस तीन स्तर की सुरक्षा की पोल आज सवेरे-सवेरे ही किरोड़ीलाल और उनके समर्थकों ने फेसबुक लाइव कर खोल दी।

आदिवासी समाज का झंड़ा फहराने के बाद जब किरोड़ीलाल ने फेसबुक लाइव किया तो उसके करीब तीस मिनट के बाद जयपुर कमिश्नरेट के अफसर एवं कई थानों के थानाधिकारी अपने-अपने सरकारी वाहनों से पहाड़ी पर पहुंचे और किरोड़ीलाल को गिरफ्तार कर लिया। बाद में उनको विद्याधर नगर थाने ले जाया गया।

दरअसल आमागढ़ पर हुए विवाद के बाद पांच दिन पहले ही पुलिस अफसरों को पता लग गया था कि रविवार यानि एक अगस्त को पहाड़ी पर मीणा समाज के लोग झंडा फहराने आने वाले हैं। इसे लेकर पहले ही पूरी सुरक्षा बंदोबस्त कर लिए गए थे। यहां तक की पहाड़ी पर जाने वाले गलता गेट और ट्रांसपोर्ट नगर के रास्तों पर तीन स्तर की पुलिस व्यवस्था की गई थी।

पहाड़ी पर जहां मंदिर बना हुआ है वहां पर भी पुलिस बंदोबस्त किया गया था। इस बीच शुक्रवार और शनिवार को किरोड़ीलाल मीणा और रामकेश मीणा से पुलिस अफसरों ने संवाद भी किया था और उनको इसी शर्त पर रैलियां या सभा करने की अनुमति दी थी कि वे रविवार को पहाड़ी पर नहीं जाएंगे।

लेकिन किरोड़ीलाल मीणा ने इस पूरे घटनाक्रम को भी फाॅलो किया और उसके बाद भी आज सवेरे पहाड़ी पर आदिवासी समाज का झंड़ा फहरा दिया। झंड़ा फहराने के बाद अब उन पर किस धाराओं में मुकदमा दर्ज किया जाए, इस बारे में पुलिस अफसर सरकार से संवाद कर रहे हैं। दोनो जगहों पर एंट्री बैन होने के बाद भी किरोडीलाल और उनके समर्थक पहाडी के रास्ते से चढ़े और सवेरे सवेरे ही झंड़ा फहरा दिया।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned