Rajasthan Rain Update: राजस्थान में झमाझम को लेकर आई गुड न्यूज

Rajasthan Rain Update: मौसम विभाग के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में बन रहे सक्रिय तंत्र के चलते फिलहाल मानसून अक्टूबर के दूसरे सप्ताह तक स क्रिय रहेगा, इससे विभिन्न जगहों पर मेघ बरसने के पूरे आसार रहेंगे।

By: santosh

Updated: 25 Sep 2021, 11:35 AM IST

जयपुर। Rajasthan Rain Update: मानसून की विदाई का समय नजदीक है परंतु इससे पूर्व मानसून पूरी तरह से प्रदेश में अंतिम चरण में मेहरबान रहेगा। इससे पूर्व राजधानी जयपुर समेत अन्य जगहों पर फिर से बीते 24 घंटे में मौसम में बदलाव देखने को मिला है। इसके साथ ही पारे में बढ़ोतरी दो से तीन डिग्री तक की दर्ज की गई है। मौसम विभाग के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में बन रहे सक्रिय तंत्र के चलते फिलहाल मानसून अक्टूबर के दूसरे सप्ताह तक स क्रिय रहेगा, इससे विभिन्न जगहों पर मेघ बरसने के पूरे आसार रहेंगे। वर्तमान समय की बात की जाए तो अब तक आश्विन मास में प्रदेश में सामान्य से सात फीसदी अधिक बारिश दर्ज हो चुकी है। वहीं इस साल का कोटा भी पूरा हो चुका है।

जल संसाधन विभाग के मुताबिक प्रदेश में मानसून सीजन में औसतन 521 मिमी बारिश होती है, जबकि अब तक 555 .5 मिमी हो चुकी है। इसके अलावा 10 जिलों में सामान्य से अधिक व 20 में सामान्य बारिश हो चुकी है। यानि सात फीसदी से अधिक बारिश अब तक दर्ज की जा चुकी है। पूर्वी राजस्थान के अधिकांश हिस्सों में मानसून सक्रिय रहेगा। वहीं दक्षिणी राजस्थान में उदयपुर संभाग के कुछ जिलों में तो भारी बारिश हो सकती है। हालांकि पश्चिमी राजस्थान में 25 सितंबर के बाद बारिश का दौर कमजोर रहेगा।

आगे भी मेघ होंगे मेहरबान
इस महीने के अंत तक जयपुर, भरतपुर, अजमेर, कोटा और उदयपुर संभाग के जिलों में अधिकतर स्थानों पर मेघगर्जन के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है। शनिवार से बरसात की गतिविधियों में कमी होने की संभावना है। वहीं एक अक्टूबर से सात अक्टूबर के बीच राज्य में सामान्य से अधिक बरसात होने की संभावना मौसम विभाग ने जताई है। एक जून से 23 सितंबर तक प्रदेश में सामान्य की तुलना में 12 फीसदी अधिक बारिश हुई। पूर्वी राजस्थान में 18 जिलों में बारिश सामान्य की तुलना में अधिक रही, जबकि पांच जिलों में बारिश कम रही। वहीं पश्चिमी राजस्थान में छह जिलों में सामान्य की तुलना में अधिक बारिश हुई है जबकि चार जिलों में बारिश कम हुई। वहीं अब तक सबसे ज्यादा बारिश कोटा संभाग में हुई।

बीसलपुर बांध का जलस्तर पहुंचा 311.73 आरएल मीटर
बीसलपुर बांध में पानी की आवक का सिलसिला लगातार जारी हैं। शनिवार सुबह बांध का जलस्तर 311.73 आरएल मीटर दर्ज किया गया। राजधानी जयपुर समेत अन्य जिलों में सालभर आसानी से पानी की आपूर्ति की जा सकेगी। वहीं त्रिवेणी नदी का जलस्तर 3.70 मीटर, बांध की कुल भराव क्षमता 315.50 मीटर है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned